धन समर्थन मूल्य 2019

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (भाषा) केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने देश में बाल विवाह और इस कारण कम उम्र में गर्भधारण के कारण महिलाओं की बढ़ती स्वास्थ्य समस्याओं को सरकार के लिए गंभीर चिंता का विषय बताया है। हर्षवर्धन ने शनिवार को किशोरों के स्वास्थ्य विषय पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि व्यक्तित्व के विकास में किशोरावस्था के महत्वपूर्ण योगदान को देखते हुए इस आयु वर्ग के लोगों के विकास पर उपयुक्त ध्यान देने से ही देश की युवा शक्ति को भविष्य के लिए उपयोगी बनाया जा सकता है। उन्होंने देश के कुछ इलाकों में अभी भी बाल विवाह और कम उम्र में गर्भधारण की सूचनाएं मिलने को सरकार के लिए गंभीर चिंता का विषय बताया। उन्होंने कहा कि इसका एकमात्र समाधान यही है कि युवाओं को इस दिशा में जागरूक बनाया जाए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इसके लिए देश में प्रभावी तौर पर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने इस दिशा में राज्यों से सक्रिय सहयोग की अपील करते हुए कहा कि इस अभियान में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित करना जरूरी है और इस तरह की कार्यशालाएं इस मकसद को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती हैं। कार्यशाला का आयोजन मंत्रालय के सहयोग से सामाजिक क्षेत्र के संगठन ऑब्जर्वर रिसर्च फांउडेशन ने किया।