nainital bank recruitment 2017 free job alert

- दिल्ली की जनसंख्या कई मुल्कों से ज्यादा है। आस्ट्रेलिया इस मामले में छोटा है, फिर भी उसने तैयारियों से लेकर ओलिंपिक स्थल टोक्यो में व्यवस्था के स्तर पर खास प्रबंध किए हैं। अलग से जिम, खिलाड़ियों की सुरक्षा का प्रबंध व खाने-पीने समेत अन्य व्यवस्थाएं हैं, जो यह दर्शाता है कि उसकी तैयारियां किस स्तर की हैं। दिल्ली इतनी बड़ी है फिर भी यहां से महज चार खिलाड़ी ही भाग ले रहे हैं। इसके पीछे कहीं न कहीं सरकार की नीतियां जिम्मेदार हैं। हकीकत यह है कि दिल्ली में खेल संस्कृति का अभाव है। यहां जमीनी स्तर पर ध्यान देने की जरूरत है। पूरी राजधानी में दिल्ली सरकार के तीन ही स्टेडियम हैं। वह तो भला हो केंद्र व दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) का जिन्होंने एशियन और राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन के लिए कई स्टेडियम तैयार किए। डीडीए रोहिणी में ओलिंपिक खेलों के लिए ट्रेनिंग सेंटर बना रहा है।

मृतक कर्मचारियों को नहीं मिली राशि, प्रदर्शन

पंजाब ने दिल्ली को 102 रन से हराया

गांवों में कीटनाशी का छिड़काव आज से

वाद-विवाद प्रतियोगिता में गायत्री ने मारी बाज

Coronavirus Update: शहरों से निकलकर गांवों तक

अतिरिक्त उपायुक्त और जिला राजस्व अधिकारी को द

पार्टी नेताओं का कहना है कि सिद्धू अमृतसर पूर

तीन मौतों के बाद जागा स्वास्थ्य विभाग, मृतकों

धारावाहिकों से सीख लेता कोरोना: टीवी के हिंदी

पौने तीन करोड़ से बनेगी जुई-सतनाली सड़क, 12 गां

कैमूर के कई घरों में अब भी नहीं पहुंच रहा नल

सांस्कृतिक कार्यक्रम में महिला डांसरों को कपड

भ्रूण जांच तथा भ्रूण हत्या समाज के लिए अभिशाप

बरेली में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आकर दो बै

पंजाबी विभाग ने करवाया विद्यार्थी कवि दरबार

मध्य प्रदेश में तेजी से बढ़े कोरोना के मामले,

पार्टी प्रमुख या मुख्यमंत्री बनने के योग्य नह

खाद की किल्लत बरकरार, डीएपी नहीं मिलने से आलू

राज्यमंत्री के स्वागत को तैयारियों में जुटे क

कोरोना के बढ़ते मामले को ले तेज हुआ मास्क जां