teacher job recruitment in delhi

एंटीजन किट के अलावा सबसे ज्यादा आरटी-पीसीआर जांच होती हैं। जिले में आरटी-पीसीआर जांच तो लगातार हो रही हैं, लेकिन इनकी रिपोर्ट अब 72 घंटे नहीं बल्कि सात से आठ दिन बाद तक मिल रही है। कुछ केस में रिपोर्ट दस दिन बाद तक मिली हैं। ऐसे में संदिग्ध मरीज संक्रमित हैं, इसका पता जब चलता है, तब तक या तो उनकी तबीयत कुछ दुरुस्त होती है या फिर बिगड़ जाती है।

कांग्रेस ने किया दावा, 2019 में करेंगे केंद्र

इस तरह शव के पास पत्नी सुना रही लव स्टोरी, को

समाजवादी पार्टी में शामिल हुईं पूनम सिन्हा, र

देश में पांच साल में पुलिस के साथ मुठभेड़ों म

86 लोगों में कोरोना फैलाने वाले बुजुर्ग ने जी

छात्र संघ चुनाव में उतरेगी आम आदमी पार्टी की

चार न्यायिक पदाधिकारी समेत 16 कर्मी कोरोना पा

Jharkhand Schools Lockdown : अगले आदेश तक आठव

कोरोना वायरस अपडेट दो

नर्स के पैर छूकर रो पड़ी महिला-' मेरे पति को

AAP की आतिशी ने अपने नाम से मार्लेना हटाया, क

Coronavirus: गोरखपुर में विशेष सतर्कता, विदेश

Janta Curfew : खौफ में बनाया त्योहार सा माहौल

कठिन हुआ दिल्‍ली, मुंबई से गोरखपुर आना, चार फ

दिल्ली चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट में क्यों

निर्भया के दोषियों के वकील एपी सिंह को दिल्ली

संवेदना के साथ बाढ़ पीड़ितों को पहुंचाएं हरस

Today's Major Programs In Gorakhpur: गोवंश की

कोरोना वायरस को लेकर एसटीएच पर आइबी की नजर, आ

ग्रामीण चिकित्सकों की बैठक में कमेटी गठित