10 रुपये में बंपर पैदावार, फसल लगाने से पहले पता चल जाएगा खेत की मिट्टी उपजाऊ है या नहीं

जींद,जागरणसंवाददाता।किसानअभीतकअपनेखेतोंकीमिट्टीकीजांचनिशुल्ककरारहेथे।अबकृषिविभागनेइसमेंशुल्कतयकरदियाहै।किसानोंकोप्रतिसैंपलदसरुपयेकाभुगतानकृषिविभागकोकरनाहोगा।इसकार्यकेलिएकृषिसहायकनियुक्तकिएजाएंगे।कृषिसहायकगांवअनुसारखेवटनंबरसहितपूराडाटाआनलाइनअपडेटकरेंगे।सभीकिसानोंकोमिट्टीकीजांचकरानीहोगी,जिसमेंमिट्टीकीउवराशक्तिकापतालगायाजासके।

कृषिविभागकीओरसेइसबारसफीदों,अलेवा,नरवाना,जुलाना,उचानाब्लाककोचयनितकियागयाहै।अभीजींदवनरवानामेंमिट्टीकीजांचहोरहीहै।इसकेअलावासफीदोंमेंभीमिट्टीजांचकेलिएलैबबनकरतैयारहोगईहै।जमीनमेंपोटाश,जिंक,आयरन,मैग्नीशियम,फास्फोरस,सल्फर,तांबासमेत17पोषकतत्वोंकीजरूरतहोतीहै।यहतत्वफसलोंकीरोगप्रतिरोधकक्षमताप्रदानकरतीहै।

एकहीफसलकईबारउगानेसेजमीनमेंकुछखनीजखत्महोनेतोकुछअधिकहोनेशुरूहोजातेहैं।इससेपौधाअंकुरिंतहोनेकेसाथसाथपीलाहोनेकेसाथसाथपौधेकीपैदावाररुकनेकीसमस्याआजातीहै।इसकेलिएकिसानोंनेडीएपीवयूरियाकाअंधाधुंधछिड़कावशुरूकरदियाहै।इसकेचलतेजमीनकीशक्तिकमहोजातीहै।इसकेचलतेअनाजकीपौष्टिकता,गुणवत्तातथापैदावारप्रभावितहोनीशुरूहोगईहै।इससमस्याकेसमाधानकेलिएकृषिविभागनेमिट्टीजांचकीयोजनाबनाईहै।सैंपललेनेकेलिएकृषिविभागद्वाराकिसानसहायकनियुक्तकिएजारहेहैं।एकसहायकदिनभरमेंआठसेनौसैंपललेगा।इससेएकओरकिसानोंकोसुविधामिलेगी,वहींयुवाओंकोरोजगारमिलसकेगा।

मिट्टीकीजांचकेलिएकिसानोंकोअबदसरुपयेकाभुगतनाकरनाहोगा।इसकामकेलिएगांवअनुसारसहायकनियुक्तकिएजारहेहैं।किसानोंकोचाहिएकिवहमिट्टीकीजांचकरवाएं।इससेमिट्टीकीपैदावारशक्तिकापतालगसकेगा।पहलेमिट्टीजांचनिशुल्ककीजातीथी।अबइसकेलिएकृषिविभागनेशुल्कनिर्धारितकरदियाहै।

-डा.सुभाषचंद्र,खंडकृषिअधिकारी।