200 करोड़ के घोटाले में नगर निगम का ठेकेदार गिरफ्तार

जागरणसंवाददाता,फरीदाबाद:नगरनिगममेंकरीब200करोड़रुपयेघोटालेकेबहुचर्चितमामलेमेंराज्यसतर्कताब्यूरो(विजिलेंस)नेसतबीराएंडसतबीराफर्मकेमालिकठेकेदारसतबीरकोगिरफ्तारकियाहै।विजिलेंसनेआरोपितकोमंगलवाररातहरिद्वारसेपकड़ा।उसेअदालतमेंपेशकरछहदिनकीरिमांडपरलियाहै।इसमामलेकीजांचकेलिएविजिलेंसकेपुलिसअधीक्षकअभिषेकजोरवालनेउपअधीक्षकअनिलकुमारकेनेतृत्वमेंतीनसदस्यीविशेषजांचदल(एसआइटी)कागठनभीकरदियाहै।

यहघोटालामई2020मेंउजागरहुआथा।फरीदाबादनगरनिगमकेचारपार्षदोंनेतत्कालीननिगमआयुक्तकोशिकायतदीथीकिनिगमकेलेखाविभागनेठेकेदारसतबीरकीविभिन्नफर्मोंकोबिनाकामकिएभुगतानकरदियाहै।निगमआयुक्तनेअपनेस्तरपरमामलेकीजांचकराई।ठेकेदारकोभुगतानमेंअनियमितताएंपाएजानेपरउन्होंनेविजिलेंससेजांचकीसिफारिशकी।साल2020सेविजिलेंसइसमामलेकीजांचकररहीथी।अबविजिलेंसनेठेकेदारसतबीर,कार्यकारीअभियंताप्रेमराज,कनिष्ठअभियंताशेरसिंह,लिपिकपंकजकुमार,प्रदीप,लेखाशाखालिपिकतस्लीमकेखिलाफभ्रष्टाचारनिवारणअधिनियमकीधाराओंकेतहतअलग-अलगचारमुकदमेदर्जकिएहैं।

सूत्रोंनेबतायाकिविजिलेंसनेठेकेदारसतबीरकीचारफर्मोंकेबैंकखातोंकीजांचकीहै।खातोंमेंनगरनिगमकीतरफसे190करोड़रुपयेकाभुगतानमिलाहै।विजिलेंसजांचकररहीहैकिइसमेंकितनेरुपयेकाकामठेकेदारद्वाराकियागयाऔरकितनारुपयाउसेबिनाकामकिएमिला।विजिलेंसअधिकारियोंकाकहनाहैकिअभीइसमामलेमेंशुरुआतहुईहै।इसमेंअभीऔरमुकदमेदर्जहोंगेऔरगिरफ्तारीहोंगी।घोटालेमेंसंलिप्तअन्यअधिकारियोंकेनामभीजांचमेंशामिलकिएजाएंगे।