6833 करोड़ की जालसाजी में सिंगापुर और हांगकांग से भी लिया ऋण, CBI के निशाने पर शीर्ष बैंक अफसर

कानपुर,जेएनएन।श्रीलक्ष्मीकाटसिनकंपनीकीजालसाजीमेंबैंकोंके6,833करोड़रुपयेडूबगए,लेकिनबैंकोंमेंशीर्षअधिकारियोंकोबचानेकाखेलहीचलतारहा।जिसस्तरकेलोन23बैंकोंकेकंसोर्टियमबनाकरश्रीलक्ष्मीकाटसिनकंपनीकोदिएगए,उसेउच्चाधिकारियोंकेअलावाकोईस्वीकृतनहींकरसकता।इतनाहीनहींकंपनीनेयूकोबैंककीसिंगापुरऔरहांगकांगकीशाखाओंसेभीऋणलियाहै।देशकीबैंकोंसेऋणराशिकोजारीकरनेमेंजिनअफसरोंकीस्वीकृतिथी,बैंकोंनेउनकीजांचतोकीलेकिनउनकाकदइतनाबड़ाहैकिअभीतकसिर्फजांचहीचलरहीहै।इसमेंभीज्यादातरबैंकोंनेअपनेयहांसेजारीकुछलोनमेंतोस्टाफकीजिम्मेदारीकीजांचकराई,लेकिनबाकीनेयहभीनहींकिया।केनराबैंकनेतोअधिकांशलोनमेंअपनेस्टाफकीजिम्मेदारीकीजांचतकनहींकराई।सीबीआइकीजांचमेंसभीबैंकोंकेअधिकारीभीनिशानेपरआगएहैं।

बैंकोंनेजांचमेंबरतीलापरवाही

दिल्लीकेपार्लियामेंटस्ट्रीट,जीवनताराबिल्डिंगस्थितसेंट्रलबैंकआफइंडियाकेडीजीएमराजीवखुरानानेसीबीआइमेंश्रीलक्ष्मीकाटसिनकंपनीकेखिलाफरिपोर्टदर्जकराईथी।उसकेमुताबिक,जिनबैंकोंनेलोनजारीकिया,उनमेंसीबीआइमेंदीगईरिपोर्टमेंदर्शायागयाहैकिई-ओबीसीबैंकनेअपनेज्यादातरलोनमेंस्टाफकीजिम्मेदारीकीकोईजांचनहींकराई।कुछमें2020मेंजांचशुरूकराई,जोअभीचलरहीहै।वहीं,यूनियनबैंकनेसिर्फएकलोनमेंजांचशुरूकराई,बाकीमेंउसनेकोईजांचनहींकराईहै।इसीतरहयूनियनबैंकआफइंडियामेंभीसिर्फएकलोनकीहीजांचकीगई।बैंकआफबड़ौदानेअपनेसभीलोनकेलिएजांचकरानेकीबाततोलिखीहै,लेकिनजांचमेंक्यापायागया,इसकाउल्लेखनहींहै।

इंडस्ट्रियलफाइनेंसकार्पोरेशनआफइंडिया(आइएफसीआइ)नेतोअपनीजांचमेंसाफलिखाहैकिउसकाकोईकर्मचारीइसलोनमेंदोषीनहींहै।केनराबैंकनेकोईजांचनहींकराई।उससेजुड़ेई-सिंडिकेटबैंकनेसिर्फएकलोनपरजांचकराई,वहभीअभीतकलंबितहै।स्टेटबैंकनेअपनेसभीलोनपरजांचतोकराईहै,लेकिनअभीतककोईजांचपूरीनहींहुईहै।सारस्वतबैंकनेभीअपनेएकलोनकीजांचकराई,जबकिबाकीकोजांचकेदायरेमेंभीनहींलायागया।वहीं,सेंट्रलबैंकनेअपनेचारलोनमेंस्टाफकीजांचकराकरउन्हेंक्लीनचिटदेदी,जबकिबाकीचारकीजांचनहींकराईगई।

विदेशसेभीलियाऋण

श्रीलक्ष्मीकाटसिनकंपनीनेयूकोबैंककीसिंगापुरऔरहांगकांगकीशाखाओंसेभीऋणलियाहै।इनदोनोंशाखाओंनेअलग-अलग27.02करोड़रुपयेस्वीकृतकिएथे।इनकीआउटस्टैंडिंगभीइससमयइतनीहीहै।

अबबैंकअधिकारीभीसीबीआइकेनिशानेपर

श्रीलक्ष्मीकाटसिनकंपनीकेखिलाफसीबीआइमेंदर्जकराईगईरिपोर्टमेंकिसीबैंकअधिकारीकीमिलीभगतकाउल्लेखनहींकियागयाहै,लेकिनआनेवालेसमयमेंसीबीआइकेनिशानेपरबैंककेअफसरभीरहेंगे।खासतौरपरवेअफसर,जिन्होंनेलोनजारीकरतेसमयनिर्धारितप्रक्रियाकाध्याननहींदिया।सीबीआइनेरिपोर्टदर्जहोनेकेबादछापेमारीकरतेजीभीदिखाईहै।अबसीबीआइकंपनीकेनिदेशकोंकेबयानलेरहीहैऔरबैंकोंमेंभीउनबिंदुओंकोतलाशरहीहै,जहांसेइसऋणकोदेनेमेंगड़बड़ीहुईहै।