आधार के जरिए जांच का दायरा बढ़ाने की तैयारी में सरकार

सुरभिअग्रवाल,नईदिल्लीदेशकेनागरिकजल्दहीड्राइवरोंऔरघरेलूनौकरोंकीभर्तीकरनेसेपहलेउनकेबारेमेंपुख्ताअहमजानकारीहासिलकरसकेंगे।आधारनंबरकेइस्तेमालकेजरियेऐसामुमकिनहोगा।सरकारआधारऑथेंटिकेशन(जांच)सिस्टमकादायराबढ़ानेकीतैयारीमेंहै।अबतकआधारकेजरियेजांचकासिस्टमबैंकऔरकुछसरकारीविभागोंतकहीसीमितथा,जिसेबढ़ाकरआमलोगोंऔरप्राइवेटतकपहुंचायाजारहाहै।साथही,यहभीसुनिश्चितकियाजारहाहैकिऔरसुरक्षितसिस्टमकेजरियेप्रिवेसीकीचिंताओंकोदूरकियाजाए।मामूलीफीसदेकरदूसरेलोगोंकेयूनीकआईडीनंबरकाइस्तेमालकरतेहुएउनकेबारेमेंडीटेल्सकीजांचकीजासकेगी।वोटर,राशनऔरपैनकार्डजैसेअन्यपहचानपत्रोंकेउलटआधारयूआईडीकोरियलटाइममेंऑनलाइनचेककियाजासकताहै।इससर्विसकाइस्तेमालउनकंपनियोंकीतरफसेभीकियाजासकताहै,जोअपनेकंज्यूमर्सऔरस्टाफकेरिकॉर्डकीप्रामाणिकताकापतालगानाचाहतीहैं।मामलेसेवाकिफएकसरकारीअधिकारीनेबतायाकियूनीकआइडेंटिफिकेशनअथॉरिटीऑफइंडिया(यूआईडीएआई)थर्डपार्टीएजेंसियोंकीभर्तीकीतैयारीमेंहै,जोलोगोंऔरकंपनियोंकेबदलेजांचकेकामकोअंजामदेंगी।एकअधिकारीनेनामजाहिरनहींकिएजानेकीशर्तपरबताया,'आधारऑथेंटिकेशनसर्विसकेजरियेलोगोंकेरिकॉर्डकेबारेमेंजानकारीहासिलकीजासकतीहै।'यूआईडीएआईकायहकदमप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकेहालियाउसआदेशकेबादसामनेआयाहै,जिसमेंउन्होंनेआधारकेइस्तेमालकादायराबढ़ानेकीबातकहीहै।आधारसेजुड़ीप्रिवेसीकीचिंताओंकोदूरकनेकेलिएनयाऑथेंटिकेशनसिस्टमईकेवाईसीनॉर्म्ससेअलगतरहसेकामकरेगा।फिलहालसरकारविभागऔरबैंकईकेवाईसीनॉर्म्सकापालनकरतेहैं।ईकेवाईसीकेतहतयूजरएजेंसियांकिसीशख्सकाआधारनंबरऔरबायॉमेट्रिक्सडालतीहैंऔरयूआईडीएआईसर्वरनाम,पताऔरबाकीडीटेल्समुहैयाकराताहै,जिसेबादमेंएजेंसियोंद्वारास्टोरकियाजाताहै।प्राइवेटकंपनियोंऔरनागरिकोंकोदीजानेवालीसर्विसकेतहतआधारलेटरपरमौजूदबारकोडकीस्कैनिंगकीजाएगीऔरइसमेंमौजूदडेटाकोवेरिफिकेशनकेलिएआधारडेटाबेसभेजाजाएगाऔरफिरहांयानहींमेंइसकाजवाबमिलेगा।अधिकारीनेबताया,'यहजांचकासबसेसुरक्षिततरीकाहोगा,क्योंकियूआईडीडेटाबेसकेजरियेकिसीभीनागरिककेडेटाकाट्रांसफरनहींहोगा।'यूआईडीएआईकेमुताबिक,कुल330ऑथेंटिकेशन(जांच)यूजरएजेंसियांहैंऔरइससर्विसकीशुरुआतसेअबतककुल111करोड़ट्रांजैक्शनदेखेगएहैं।तकरीबन20कंपनियोंनेआधारजांचसर्विसकेलिएरजामंदीजताईहै,जिनमेंभारतीएयरटेल,वोडाफोनऔरसरकारीकंपनीबीएसएनएलजैसीटेलीकॉमकंपनियोंकेअलावामास्टरकार्डऔरवीजाजैसीफाइनैंशलसर्विसेजफर्मेंभीशामिलहैं।अधिकारीनेबताया,'उनकंपनियोंकोइससेबड़ाफायदाहोसकताहै,जिनकेपासबड़ीसंख्यामेंएंप्लॉयीजहैंयाजोयूजरवेरिफिकेशनपरअच्छी-खासीरकमखर्चकरतीहैं।'इकनॉमिकटाइम्सनेपिछलेसालखबरदीथीकिफाइनैंशलसर्विसेजफर्मफिनोपेटेकआधारनंबरकेइस्तेमालकेजरियेकस्टमर्सकीजांचकेलिएएकई-कॉमर्सफर्मसेबातकररहीहै।इसकेतहतदेशकेवैसेइलाकोंमेंकस्टमर्सकीजांचकरनेकीबातथी,जहांडिलिवरीबॉयसेसामानछीननेऔरऑनलाइनऑर्डरकिएगएसामानोंकीडिलिवरीकीखतराज्यादाहै।