आईएनएक्स मीडिया : सीबीआई ने उच्च न्यायालय से कहा कि जब्त दस्तावेजों के निरीक्षण की अनुमति आरोपियों को नहीं दे सकते

नयीदिल्ली,27अगस्त(भाषा)सीबीआईनेशुक्रवारकोदिल्लीउच्चन्यायालयसेकहाकिआईएनएक्समीडियामामलेमेंजांचजारीहैऔरआरोपीकांग्रेसनेतापी.चिदंबरमतथाउनकेबेटेकार्तिकोजब्तदस्तावेजोंकेनिरीक्षणकीअनुमतिनहींदीजासकतीक्योंकिइससेसाक्ष्योंसेछेड़छाड़होसकतीहै।न्यायमूर्तिमुक्तागुप्ताकीएकलपीठकेसमक्षनिचलीअदालतकेफैसलेकेखिलाफसीबीआईकीयाचिकापरसुनवाईकेदौरानजांचएजेन्सीनेयहतर्कदिया।निचलीअदालतनेमालखानामेंरखेदस्तावेजोंकानिरीक्षणआरोपियोंएवंउनकेवकीलोंद्वाराकिएजानेकीअनुमतिदेदीथीऔरकहाथाकिउच्चतमन्यायालयनेआरोपियोंकेपक्षमेंनिरीक्षणकाफैसलादियाहै।न्यायाधीशनेकहा,‘‘अबयहआरोपियोंपरनिर्भरकरताहै।कानूनकोभीआगेबढ़नाहै।हरजांचएजेंसीएकहजारदस्तावेजजब्तकरतीहै।वे500परभरोसाकरतेहैंऔर500रखदेतेहैं।यहआपकीसंपत्तिनहींहै।उनमेंआरोपियोंकीरिहाईकीभीसामग्रीहोसकतीहै।’’अदालतनेसीबीआईकीयाचिकापरफैसलासुरक्षितरखलियाऔरएजेंसीतथाआरोपियोंकोलिखितहलफनामादायरकरनेकीअनुमतिदी।इसनेकहा,‘‘अंतरिमआदेशजारीरहेगा।’’सीबीआईकेवकीलअनुपमएस.शर्मानेकहाकिमामलेमें‘‘गोपनीयताजरूरीहै’’क्योंकिजांचअभीचलरहीहै।अदालतनेकहा,‘‘फिरआपकहेंगेकिजबतकजांचचलतीहैतबतकसुनवाईरोकदीजाए...आपबताएंकिजांचकेलिएआपकोकितनावक्तऔरलगेगाऔरफिरयहनिर्णयकियाजाएगाकिकौनसादस्तावेजदियाजानाहै।’’वित्तमंत्रीकेरूपमेंचिदंबरमकेकार्यकालकेदौरान2007मेंविदेशनिवेशप्रोत्साहनबोर्ड(एफआईपीबी)द्वाराआईएनएक्समीडियासमूहको305करोड़रूपएकाविदेशीनिवेशप्राप्तकरनेकेलिएदीगईमंजूरीमेंकथितअनियमितताओंकेसिलसिलेमेंसीबीआईने15मई2017कोमामलादर्जकियाथा।इसकेबादप्रवर्तननिदेशालयनेभीधनशोधनकामामलादर्जकियाथा।इससमयचिदंबरमपितापुत्रदोनोंहीइसमामलेमेंजमानतपरहैं।