आपदा के लिए अनियंत्रित विकास जिम्मेदार, सरकार ये मानने को नहीं तैयार; बचाव और नुकसान कम करने पर जोर

राज्यब्यूरो,देहरादून।सरकारयहमाननेकोतैयारनहींहैकिदैवीयआपदाकेलिएअनियोजितयाअनियंत्रितविकासजिम्मेदारहै।आपदाकोदेखतेहुएउससेबचावऔरजान-मालकानुकसानकमकरनेकोनीतिनियोजनकाहिस्साबनायागयाहै।राज्यकातकरीबनपूराभू-भागभूकंपीयजोनमेंहोनेकीवजहसरकारीऔरगैरसरकारीभवनोंकोआपदारोधीबनानाअनिवार्यकियाजाचुकाहै।

प्रदेशमेंअनियोजितविकासबहसकामुद्दाबनतारहाहै।पर्यावरणविदइसमुद्देकोशिद्दतसेउठातेरहेहैं।लंबेअरसेसेयहमांगकीजारहीहैकिअनियोजितविकासकोरोकनेकेलिएनीतितयकीजानीचाहिए।इससेआपदाओंकोभीनियंत्रितकरनेमेंमददमिलेगी।खासतौरपरभूस्खलनजैसीघटनाओंकोइसतरहसेरोकाजासकेगा।सरकारआपदाओंकेलिएअनियोजितविकासकोवजहनहींमानती।

सरकारकीनीतिआपदाकेप्रतिसंवेदनशीलउत्तराखंडमेंनुकसानकोकमकरनेकीहै।इसेध्यानमेंरखकरहीआपदाप्रबंधनएवंपुनर्वासविभागकेअंतर्गतआपदाप्रबंधनऔरन्यूनीकरणकेंद्रस्थापितकियागयाहै।मुख्यमंत्रीकेअपरमुख्यसचिवआनंदबर्द्धनकाकहनाहैकिआपदासेबचावकेलिएतंत्रकोविकसितकियाजारहाहै।

उन्होंनेकहाकिउत्तराखंडभूकंपकेप्रतिअतिसंवेदनशीलजोन-चारऔरजोन-पांचमेंहै।भूकंपसेजान-मालकीबड़ेपैमानेपरक्षतिकेअंदेशेकोदेखतेहुएप्रदेशमेंसरकारीऔरनिजीभवनोंकोभूकंपरोधीबनानेकाआदेशलागूहै।विभिन्नविकासप्राधिकरणोंकेमाध्यमसेइसेअमलमेंलायाजारहाहै।सड़केंबनानेकेलिएअबब्लास्टिंगनहींहोती।चट्टानोंकीकटिंगकीजारहीहै।

आपदाप्रभावितक्षेत्रोंकादौरानकरेंगेकेंद्रीयरक्षाराज्यमंत्री

केंद्रीयरक्षाराज्यमंत्रीऔरसीमासड़कसंगठनकेचेयरमैनअजयभट्टबुधवारकोउत्तराखंडकेआपदाप्रभावितक्षेत्रोंकादौराकरेंगे।इसकीशुरुआतवहधारचूलाकेआपदाप्रभावितक्षेत्रोंसेकरेंगे।उत्तराखंडमेंलगातारहोरहीबरसातकेकारणकईजगहआपदाकेहालतबनगएहैं।लगातारहोरहेभूस्खलनसेराष्ट्रीयराजमार्गभीप्रभावितहोरहेहैं।वहींरविवाररातधारचूलामेंबादलफटनेकीघटनासेकाफीनुकसानहुआहै।मंगलवारकोरक्षाराज्यमंत्रीअजयभट्टनेपिथौरागढ़-तवाघाटमार्गपरहुएनुकसानकेसंबंधमेंसीमासड़कसंगठनकेमहानिदेशकले.जनरलराजीवचौधरीकेसाथबैठककी।

इसदौरानले.जनरलचौधरीनेबतायाकिसीमासंगठनकेसाथहीएनडीआरएफएवंस्थानीयप्रशासनकीपूरीटीमबचावएवंराहतकार्योंमेंजुटीहुईहै।केंद्रीयरक्षाराज्यमंत्रीअजयभट्टनेनिर्देशदिएकिसीमासड़कसंगठनपूरीक्षमताकेसाथसड़कसंपर्कस्थापितकरनेकेलिएहरसंभवप्रयासकरे।जरूरतपड़नेपरसंगठनअपनीसीमासेबाहरजाकरभीबचावएवंराहतकार्यचलाए।प्रदेशसरकारकोभीपूरीमदददीजाए।उन्होंनेकहाकिवहस्वयंक्षेत्रकादौराकरेंगे।उनकेसाथमहानिदेशकसीमासड़कसंगठनऔरहीसासंदअल्मोड़ाअजयटम्टाभीरहेंगे।

यहभीपढें- पांचदिनोंमेंरानीपोखरीकेपासजाखननदीपरबनेगाकाजवे,यहांभारीबारिशकेबादटूटगयाथापुल