असहज कांग्रेस को नागपुर में प्रणब मुखर्जी के भाषण से आखिरकार मिला सुकून

नईदिल्लीकांग्रेसकेदिग्गजनेतारहेपूर्वराष्ट्रपतिप्रणबमुखर्जीकेराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघ(RSS)केकार्यक्रममेंजानेकेफैसलेनेभलेहीपार्टीकेभीतरबेचैनीसीपैदाकरदीहोपरउनकेभाषणसेउसेकाफीसुकूनमिलाहै।दरअसल,कांग्रेसमेंरहतेहुएप्रणबRSSकीतीखीआलोचनाकरतेरहेथे,परअचानकउनकेनागपुरइवेंटकान्योतास्वीकारकरनेकेफैसलेनेनईबहसकोजन्मदेदियाथा।कांग्रेसइसेअपनेलिएझटकेकेतौरपरदेखरहीथी।ऐसेमेंकांग्रेसऔरदूसरेविपक्षीनेताओंनेहीनहींबल्किपूर्वराष्ट्रपतिकीबेटीनेभीउन्हेंसंघकेकार्यक्रममेंनजानेकीनसीहतदीथी।पूर्वकांग्रेसअध्यक्षसोनियागांधीकेराजनीतिकसलाहकारऔरपार्टीकेदिग्गजनेताअहमदपटेलनेगुरुवारकोकहाकिउन्हेंउम्मीदनहींथीकिप्रणबमुखर्जीआरएसएसकेकार्यक्रममेंजाएंगे।नागपुरइवेंटसेपहलेउनकेइसबयानसेसाफथाकिपार्टीकेलिएकितनीअसहजस्थितिपैदाहोगईहै।शर्मिष्ठामुखर्जीद्वाराअपनेपिताप्रणबमुखर्जीकेRSSइवेंटमेंशामिलहोनेकेफैसलेकोलेकरकिएगएट्वीटपरपटेलनेकॉमेंटकिया,'मुझेप्रणबदासेऐसीउम्मीदनहींथी।'कांग्रेसबोली,प्रणबनेमोदीकोराजधर्मसिखायासोनियागांधीकेविश्वासपात्रऔरकाफीकमबोलनेवालेनेताकीयहटिप्पणीसाफतौरपरबतारहीथीकिकांग्रेसकेखेमेकामूडक्याहै।वैसेमुखर्जीकेन्योतास्वीकारकरनेकेबादसेहीपार्टीकेनेताअसहजहोगएथे,परगुरुवारशामकोउससमयवेअनुत्तरहोगएजबपूर्वराष्ट्रपतिनेRSSकेसंस्थापककेबीहेडगेवारको'भारतमाताकामहानसपूत'कहदिया।सोशलमीडियापरकॉमेंट्सकीबाढ़आगई।लोगइसेरेडलाइनकाउल्लंघनबतानेलगे।हेडगेवारकीतारीफकरनेकेबादराज्यसभामेंविपक्षकेडेप्युटीलीडरआनंदशर्मानेट्वीटकिया,'आरएसएसमुख्यालयपरदिग्गजनेताऔरविचारकप्रणबदाकीछविनेलाखोंकांग्रेसकार्यकर्ताओंऔरउनलोगोंकोजोबहुलता,विविधताऔरभारतीयगणराज्यकेमूल्योंमेंविश्वासकरतेहैं,कोदुखीकरदियाहै।'उन्होंनेलिखाकिजोसुननाचाहतेहैंऔरबदलनाचाहतेहैं,उनकेलिएकेवलसंवादहीएकमात्रजरियाहै।ऐसेमेंसुझावदेनेकेलिएकुछभीनहींहै,RSSअपनेमूलअजेंडेसेआगेबढ़गईहैक्योंकिअबवहवैधताचाहतीहै।पढ़ें:संघकेकार्यक्रममेंप्रणबबोले,राष्ट्रवादकिसीधर्मयाभाषामेंनहींबंटादरअसल,किसीकोभीविश्वासनहींथाकिमुखर्जीअपनेपांचदशकलंबेसार्वजनिकजीवनसेउलटउसवैचारिकविरोधीकेमंचपरआनेकोराजीहोजाएंगे,जिसपरकांग्रेसकेप्रस्तावमेंउन्होंनेआतंकीगतिविधियोंमेंशामिलहोनेकाआरोपलगायाथा।कांग्रेसचिंतितथीकिआखिरमुखर्जीमेजबानकेबारेमेंक्यापार्टीकेसिद्धांतोंसेइतररायरखेंगे।कांग्रेसचीफकीचिंताइसबातकोलेकरभीथीकिRSSमुख्यालयपरउनकीमौजूदगीसेउससंगठनकोवैधतामिलसकतीहै,जिसकोकांग्रेस'अछूत'कीतरहमानतीआईहै।कांग्रेसकीविचारधाराकमजोरहोनेकीभीचिंताजताईगईथी।हालांकिमुखर्जीकेसंबोधननेकांग्रेसकीसभीचिंताओंकोदूरकरदिया।इतनाहीनहींपार्टीनेयहभीकहाकिपूर्वराष्ट्रपतिकासंबोधनRSSकोसबकथा।कांग्रेसनेकहाकिपूर्वराष्ट्रपतिमुखर्जीनेसंघकोसचकाआईनादिखायाहैऔरमोदीसरकारकोभीराजधर्मसिखायाहै।कांग्रेसप्रवक्तारणदीपसुरजेवालानेकहाकिप्रणबमुखर्जीनेबहुलतावाद,सहिष्णुताऔरबहुसंस्कृतिकीबातकही,परक्यासंघसुननेकेलिएतैयारहै?कांग्रेसकेभीतरकेएकनेतानेकहाकिपार्टीअध्यक्षराहुलगांधीइसघटनाक्रमपरशांतरहेक्योंकिवहसंबोधनसेपहलेकुछभीबोलनानहींचाहतेथे।