बच्चों को नशे से बचाने के लिए माता-पिता बनें मार्गदर्शक

जागरणसंवाददाता,संगरूर:साइंटिफिकअवेयरनेसएंडसोशलवेलफेयरफोरमनेसोसवावरेडक्रासनशामुक्तिकेंद्रसंगरूरकेसहयोगसेऑगजिलियमइंटरनेशनलस्कूलगग्गुआणासंगरूरमेंनशेकेखिलाफ35वांसेमिनारकरवायागया।

इसमौकेपरछात्रोंकोसंबोधितकरतेहुएडॉ.एएसमाननेकहाकिनशेकोखत्मकरनेकेलिएमाता-पिताकोमार्गदर्शकबननाहोगा।बच्चेकापहलास्कूलपरिवारहोताहैतोदूसरास्कूलसमाज।जहांपरउसेजिदगीकेउतारचढ़ावदेखनेपड़तेहैं।कईलोगबचपनमेंघरपरकिसीकोशराबपीतादेखकरनशाकरनेलगजातेहैं,जोउम्रकेमुताबिकस्कूलसेहोतेहुएकॉलेजपहुंचकरकिसीगलतसंगतमेंपड़करचिट्टाजैसेखतरनाकनशाइस्तेमालकरनेलगजातेहैं।इससेउनकीजिदगीतबाहहोजातीहै।बलदेवसिंहगोसलनेकहाकिबच्चोंकोबचपनसेहीमाता-पिताकोनशेकेखिलाफजागरूककरनाशुरूकरदेनाचाहिए,ताकिवहआगेचलकरनशेकीदलदलमेंधंसनेसेबचसके।प्रहलादसिंहनेकहाकिकानूनकेमुताबिकशराबकेठेकेशराबकीबिक्रीकेलिएप्रचारनहींकरसकते,लेकिनठेकेदारजमकरलाइटिगलगाकरलोगोंकोआकर्षितकरनेमेंजुटेहैं।

इसमौकेप्रि.अंजलीवर्मानेआएमेहमानोंकाधन्यवादकरतेहुएछात्रोंकोनशानकरनेकेलिएप्रेरितकियागया।समारोहमेंसमूहस्कूलस्टाफवछात्रउपस्थितथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!