भारत ने चीन से साढ़े छह लाख जांच किट प्राप्त कीं, और देशों से किट खरीदने के प्रयास तेज किए

नयीदिल्ली,16अप्रैल(भाषा)भारतनेबृहस्पतिवारकोचीनसे6,50,000कोरोनावायरसजांचकिटप्राप्तकींऔरअमेरिका,ब्रिटेन,दक्षिणकोरिया,फ्रांसतथाजर्मनीसमेतअनेकदेशोंसेकिटसमेतचिकित्साउपकरणोंकोखरीदनेकेउसकेप्रयासजारीहैं।आधिकारिकसूत्रोंनेबतायाकिनिजसुरक्षाउपकरण(पीपीई)किटकीबड़ीखेपजल्दहीभारतपहुंचसकतीहै।विदेशमंत्रालयनेदूसरेदेशोंसेमहत्वपूर्णचिकित्साआपूर्तिकेप्रयासतेजकरदियेहैं।चीनसेतीनआपूर्तिकर्ताओंसेकिटआईहैं।सूत्रोंकेमुताबिकतीनलाखरैपिडएंटीबॉडीजांचकिटग्वांगझोऊवांडफोसे,ढाईलाखकिटझुहाईलिवजोनसेतथाएकलाखआरएनएकिटएमजीआईशेनझेनसेप्राप्तहुईहैं।चीनसेखरीदीगयीकिटकीगुणवत्ताकेबारेमेंपूछेजानेपरसूत्रोंनेकहाकिइसबातकापर्याप्तध्यानरखागयाहैकिजिनकंपनियोंसेमालमंगायागयाहैवेनिर्यातकेअंतरराष्ट्रीयमानकोंकोपूराकरतीहों।चीनीचिकित्साउपकरणोंकीगुणवत्ताकेबारेमेंप्रतिकूलखबरोंकेमद्देनजरचीनीदूतावासमेंप्रवक्ताजीरोंगनेकहाकिचीनचिकित्साउत्पादोंकेनिर्यातकोबड़ामहत्वदेताहैऔरउनकीगुणवत्तासुनिश्चितकरनेकेलिएकदमउठायेगयेहैं।जीनेकहा,‘‘भारतसमेतकुछदेशोंनेराजनयिकमाध्यमोंसेअपनीमांगउठाईथींऔरहमनेकाबिलकंपनियोंकेनामसुझाए।हमेंउम्मीदहैकिविदेशीखरीददारचीनीनियामकप्राधिकारोंद्वारासत्यापितउत्पादचुनसकतेहैं।’’भारतमेंकोरोनावायरसकेबढ़तेमामलोंकोदेखतेहुएपीपीईऔरजांचकिटकीगंभीरकमीहै।