भीमलपुर पंचायत को मिल जाए एकमात्र स्लुइस गेट तो बात बन जाए

मोतिहारी।मेहसीप्रखंडक्षेत्रकीभीमलपुरपंचायतस्थितआधादर्जनगांवोंकोबूढ़ीगंडकनदीकीबाढ़कीविभीषिकासेबचानेकेलिएमहजदोअददस्लुइसगेटकीआवश्यकताहै।भौगोलिक²ष्टिकोणसेबूढ़ीगंडकनदीइसपंचायतकोदोभागोंमेंविभक्तकरतीहै।बावजूदइसकेविकासकेमामलेमेंप्रखंडमेंसर्वोच्चस्थानप्राप्तकरनेकेबादभीयहपंचायतबाढ़कीविभीषिकाझेलनेकोविवशहै।डेरवाचक्की,चकनगरी,सेमरा,भीमलपुर,मिठनपुराएवमलक्ष्मीनियाजैसेगांवबाढ़सेअपनाअस्तित्वखोनेकेकगारपरहैं।इसगांवकेकरीबदोहजारपरिवारहरबारबाढ़मेंबसतेऔरउजड़तेहैं।वर्ष2007मेंआईभीषणबाढ़मेंपंचायतकालक्ष्मीनियागांवअपनाअस्तित्वखोचुकाहै।इसगांवकेलोगोंकोविस्थापितकरनेकामुद्दाविधानसभातकगूंजामगरपरिणामसार्थकनहींनिकला।डेरवाचक्कीवभीमलपुरआजभीकटावकादंशझेलरहाहै।पंचायतकेताजपुरबारास्थितब्रह्मस्थानमेंग्रामीणोंकीलगीचौपालमेंयहबातउभरकरसामनेआई।ग्रामीणरामचंद्रराय,बनारसीसाह,जयमंगलपासवान,किसोरीराय,जयसिंहराय,रविनंदनराम,दीपनसहनी,अनिलकुमार,संजयकुमार,गेसाराय,विन्देश्वरीमहतो,सुरेंद्रराय,लक्ष्मणसाह,नथुनीरायआदिनेबूढ़ीगंडकनदीमेंआनेवालीबाढ़कीविभीषिकासेपंचायतकोबचानेकोलेकरदोस्लुइसगेटकेनिर्माणकेसाथबांधकीमरम्मतवकटावरोधीकार्यकरानेपरबलदिया।ग्रामीणोंनेबतायाकिपूर्वमुखियामदनसाहनेवर्ष2006मेंपंचायतकीबागडोरसंभाली।तबसेयहपंचायतपंचायतीराजव्यवस्थाकेतहतअपनेस्वर्णिमअतीतकोजीवंतकरनेमेंजुटाहुआहै।वर्तमानमेंइनकीपत्नीबबितादेवीमुखियाहैं।पंचायतमेंसड़कोंकाजालबिछगयाहै।ग्रामीणोंकोमुख्यमंत्रीसातनिश्चययोजनाकेतहतस्वच्छपेयजलउपलब्धकरानेकीकवायदजारीहै।इनकेकार्यकालमेंपंचायतमेंव्यापकबदलावहुएहै,लेकिनविकासकीगतिकोऔरतेजकरनेकीजरूरतहै।पंचायतमेंउच्चशिक्षावस्वास्थ्यसुविधाकाघोरअभावहै।छात्रछात्राओंकोकरीब08किलोमीटरकीदूरीतयकरउच्चशिक्षाहासिलकरनेहेतुमेहसीजानापड़ताहै।यहांकीपूरीआबादीस्वास्थ्यसुविधाकोलेकरसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रमेहसीपरनिर्भरहै।वर्ष2016मेंपंचायतकेहाईटेकघोषितहोजानेकेबादभीएकअददउच्चविद्यालयकीस्थापनाआजतकनहीहोसकीहै।मध्यविद्यालयचकनगरीकोअगरउच्चविद्यालयमेंउत्क्रमितकरदियाजाताहैतोइससमस्याकास्थायीहलनिकालाजासकताहै।

विकासकेबढ़तेकदम

करीबतीनकिलोमीटरपीसीसी,पांचकिलोमीटरसोलिग,तीनकिलोमीटरमिट्टीभराई,1600परिवारकोआवास,1500लाभुकोंकोवृद्धापेंशन,108यूनिटपौधरोपण,मनरेगासेपशुशेडकानिर्माणजारी।

पंचायतएकनजरमें

प्राथमिकविद्यालय--03

मध्यविद्यालय--03

उच्चविद्यालय--00

स्वास्थ्यकेंद्र--00

पंचायतकासर्वांगीणविकासउनकाएकमात्रलक्ष्यहै।वेमुखियाकेरूपमेंअपनेपतिकीविरासतकोसंभालरहीहै।उनकीलड़ाईपंचायतकेविकासकेसाथसाथउसेबाढ़मुक्तकरानेकीदिशामेंपहलकरनाहै।

मुखियाबबितादेवी

वर्ष2006मेंपंचायतकीबागडोरसंभालनेकेबादसेउन्होंनेपीछेमुड़करनहीदेखाहै।पंचायतकेविकासकोलेकरवेसदैवततपररहेहै।उनकेसार्थकप्रयासकाप्रतिफलहैकिपंचायतप्रखंडमेंविकासकेमामलेमेंअग्रणीहै।आगेभीउनकाप्रयासजारीरहेगा।

पूर्वमुखियामदनसाह

बाढ़पंचायतकेलिएविकरालसमस्याहै।इससमस्याकेनिदानकेलिएवेअपनेस्तरसेप्रयासकरेंगे।जरूरतपड़ीतोग्रामीणोंकेमांगकोवेविधानसभाकेपटलपरभीरखेंगे।उच्चविद्यालयवस्वस्थकेंद्रकीस्थापनाकोलेकरसंबंधितविभागकोप्रस्तावभेजेंगे।

श्यामबाबूयादव