भोपाल: हमीदिया अस्पताल में बिजली चले जाने से 3 कोरोना मरीजों की मौत, सीएम शिवराज ने दिए जांच के आदेश

भोपाल:अस्पतालआदमीकीजिंदगीबचानेकेलिएहोतेहैंलेकिनअस्पतालहीजबमौतकीवजहबनजाएंतोक्याकरें.मध्यप्रदेशकीराजधानीभोपालकेबड़ेहमीदियाअस्पतालमेंबीतीरातबिजलीचलेजानेसेतीनमरीजोंकीमौतहोगई.बैकअपकेलिएअस्पतालमेंजनरेटरहै,लेकिनबिजलीजानेकेकुछहीदेरबादजनरेटभीबंदहोगया.तीनोंमरीजकोरोनासंक्रमितथेऔरवेंटिलेटरसपोर्टपरथे.

इसलापरवाहीकोलेकरमुख्यमंत्रीनेजांचकेआदेशदिएहैं.साथहीहमीदियाअस्पतालकेडीनकोनोटिसभेजागयाहैऔरमेंटेनेन्सइंजीनियरकोनिलंबितकरदियागयाहै.

दोषीबख्शानहींजाएगा

हमीदियाअस्पतालमेंहुईघटनाकोलेकरमुख्यमंत्रीशिवराजसिंहचौहाननेजांचकेआदेशदिएहैं.अस्पतालकेडीनकोनोटिसदियागयाहैऔरमेंटेनेंसइंजीनियरकोसस्पेंडकरदियागयाहै.सरकारनेकहाहैकिजोभीदोषीहोगाबख्शानहींजाएगा.हमीदियाअस्पतालमेंहुईमौतोंपरमध्यप्रदेशकेमुख्यमंत्रीदफ्तरनेभीसख्तकार्रवाईवालाट्वीटकियाहै.

संजयगांधीअस्पतालमें15बच्चोंकीमौत

ऐसाहीदूसरामामलामध्यप्रदेशकेरीवास्थितसंजयगांधीअस्पतालकाहै.इसअस्पतालमेंभीपिछलेएकहफ्तेमें15बच्चोंकीमौतहोगईहै,लेकिनअस्पतालप्रबंधनमामलेकोगंभीरतासेनहींलेरहाहै.परिजनोंकेमुताबिक,डॉक्टरोंकीलापरवाहीकेचलतेएकदिनमें3-4बच्चोंकीमौतहोरहीहै.

पोतेकोभर्तीकरानेआएशैलेन्द्रतिवारीनेआपबीतीसुनातेहुएकहा,'यहांमेरीबहुकीडिलीवरीहुईऔरबच्चेकोइन्होंनेभर्तीकरलिया.हमेंबच्चेकोदेखनेभीनहींदेतेथे.कहतेथेबाहरजाओयहांतुम्हाराकोईकामनहींहै.बच्चाबिल्कुलस्वस्थ्यहै.फिरपतानहींक्यादवादीऔरहमाराबच्चामरगया.अबहमेंउसकीडेडबॉडीदीहै.यहांरातकोसुननेवालाकोईनहींहोता.'

कोटामें24घंटेमें9नवजातकीमौत

ऐसाहीतीसरामामलाराजस्थानकेकोटासेआयाहै.पिछलेसालडेढ़महीनेकेभीतर100सेज्यादानवजातबच्चोंकीमौतकेबादभीराजस्थानसरकारनेशायदकुछनहींसीखा.कोटाकाउसीअस्पतालमेंफिर9मासूमोंकीमौतसेहड़कंपमचाहुआहै.जेकेलोनअस्पतालमें24घंटेमेंनौनवजातोंकीमौतहोगई.

राजस्थानकेकोटाकायेवहीजेकेलोनअस्पतालहैजहां9मासूमबच्चोंकीआंखेंदुनियादेखनेसेपहलेहीबंदहोगईं.जेकेलोनअस्पतालपरइससालभीगंभीरआरोपलगेहैंबच्चोंकीमौतऔरअस्पतालपरलापरवाहीकेआरोपोंकेबारेमेंजबअधीक्षकडॉक्टरएससीदुलारासेसवालपूछेगएतोउन्होंनेइसपरजोज्ञानदियाउससेइसअस्पतालकेहालकाअंदाजालगानाआसानहोजाएगा.

डॉ.एससीदुलारानेकहा,'जिंदगीऔरमौततोऊपरवालेकेहाथमेंहोतीहै.डॉक्टरभगवानकारूपनहींहोतेहैं.'राजस्थानकेस्वास्थ्यमंत्रीरघुशर्मानेकहा,'3बच्चेमृतअवस्थामेंलाएगए,3बच्चेजन्मजातविकृतियोंसेग्रस्तथे,3कीमौतसीओटीकीवजहसेहुई.'

राजस्थानकेयेवहीस्वास्थ्यमंत्रीहैंजिन्होंनेपिछलेसालइसअस्पतालमें100सेज्यादाबच्चोंकीमौतपरपूछेगएएबीपीन्यूजकेसवालोंपरजोकरनाहैकरलोजैसाबयानदियाथा.फिलहालअबइसमामलेकीउच्चस्तरीयजांचकेआदेशगहलोतसरकारनेदेदिएहैं.लेकिनसवालयेहैक्यागहलोतसरकारबच्चोंकीमौतपरइतनीअसंवेदनशीलक्योंहै,आखिरपिछलेसालहुईबच्चोंकीमौतोंसेसरकारनेसबकक्योंनहींलिया.

येभीपढ़ें-

कृषिकानूनोंपरसरकारकादावा-बार-बारकिसानोंकोसमझानेकीकोशिशकी,पीएममोदीने25सेज्यादाबारजिक्रकिया

कृषिकानूनपरबोलेपीएममोदी-'नएकानूनोंसेकिसानकेलिएनएविकल्पखुलेंगे,किसानटेक्नोलॉजीसेजुड़ेगा'