भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा अस्थायी पशु आश्रय स्थल

जासं,दुल्लहपुर(गाजीपुर):पशुआश्रयकेंद्रभ्रष्टाचारकीभेंटचढ़गयाहै।मामलाविकासखंडजखनियांकेकरुईगांवकाहै।जहांलगभगछहमहीनेपूर्वशासनकेनिर्देशपरअस्थाईगोवंशआश्रयस्थलबनायागया।शासनद्वारादियागयाधनधरातलपरखर्चहुआनहींदिखताहै।आनन-फाननमेंयहआश्रयकेंद्रबांसऔरबल्लियोंकोघेरकरबनायागया,जिसमें40मवेशीरखेगए।कुछहीदिनोंबाददवाऔरचारेकेअभावमें13मवेशियोंनेदमतोड़दिया।देखरेखकरनेवालेचरवाहाबुझारतनेबतायाकिमहीनेमेंएकबारचोकरआताहै।डाक्टरकभीकभारहीआतेहैंजोदवाभीनहींदेतेहैं।40मवेशियोंमेंसे13मवेशियोंकेमौतहोचुकीहै।इससमय27मवेशीसिर्फबचेहैंजोखुलेआसमानऔरकीचड़मेंरहरहेहैं।वहींगांवकेनन्हेतिवारीनेबतायाकिगोवंशआश्रयस्थलकाविकासकागजोंमेंसिमटकररहगयाहै।धरातलपरकुछभीनहींहै।खंडविकासअधिकारीसंदीपश्रीवास्तवनेबतायाकिसारेआरोपनिराधारहैं।जबगोवंशआश्रयस्थलबनाथातोपांचमवेशीबीमारथे।उनकाइलाजकरायागयाथा।भूसा,बाजरा,चोकरपर्याप्तहै।जल्दहीनयाटिनशेडकानिर्माणकरायाजाएगा।