बीतने जा रहा है साल, शिक्षा व्यवस्था अब भी बदहाल

गौरवभारद्वाज,हापुड़

ऐसानहींहैकिशिक्षाकोबेहतरमुकामदिलानेकेलिएशासननेकोईकसरछोड़ीहो,लेकिनयोजनाओंऔरनिर्देशोंपरसहीतरहसेअमलनहींहोसका।इसकेबावजूदजिलेसेआएप्राथमिकशिक्षकोंकेकारणशिक्षकोंकीभरमारहै।सुधारकेलिएशासननेकईआदेशजारीकिए।इससेकुछसुधारनजरआया।बीएसएकार्यालयबनकरतैयारहोगया,लेकिनडीआइओएसकार्यालयइससालभीधनकीकमीकेकारणनहींबनपाया,उच्चशिक्षामेंकोईबदलावनहींआया।जितनीउम्मीदशिक्षामेंसुधारकोलेकरवर्ष2018सेथी,उतनीपूरीनहींहोसकी।

जिलेमेंवर्तमानमें76124नामांकितबच्चोंकोप्रतिदिनमिड-डेमिलपरोसाजारहाहै।इन्हेंवर्ष2017मेंफलदेनेबंदहोगएथे,लेकिनइससालवितरितकिएगएहैं।मिड-डेमिलमेंशिकायतोंकासिलसिलाअभीजारीहै।वर्तमानमेंजिलेमेंपरिषदके427प्राथमिकव207जूनियरस्कूलहैं।आज1900शिक्षकप्राइमरीऔरलगभग800शिक्षकजूनियरविद्यालयोंमेंकार्यरतहैं।250नएशिक्षकबेसिकशिक्षापरिषदकोइसवर्षमिलेहैं।दोसौपरिषदीयविद्यालयोंकोमॉडलस्कूलबनानेकीघोषणाकीगईथी।इनविद्यालयोंकोमॉडलस्कूलबनानेकेलिएऑपरेशनकायाकल्पचलायाजारहाहै।इसकेअंतर्गतपरिषदीयप्राथमिकऔरउच्चप्राथमिकविद्यालयमेंसुविधाएंनहींदीजारहीहैं।इसमेंटॉयलेट,किचन,टाइल्स,समरसेबिल,शौचालय,सुंदरीकरण,फर्नीचर,रंगाई,पुताई,इंटरलॉ¨कगटाइल्सलगाईजारहीहैं।शिक्षामित्रोंकेलिएपूरेसालशासनसेकोईअच्छीखबरनहींआई।बच्चोंकी150सेकमसंख्यावालेप्राथमिकविद्यालयोंमेंप्रधानाध्यापकोंकेपदसमाप्तकरदिएहैं।साथहीएकहीप्रांगणमेंचलरहेप्राथमिकऔरउच्चमाध्यमिकविद्यालयोंकोएककरदियागयाहै।

इसबारड्रेसकेसाथबच्चोंकोजूते-मोजे,बैग,स्वेटरभीमिले।वहींमाध्यमिकशिक्षाविभागकेतीनविद्यालयसिखेड़ा,मुरादपुरऔरमुर्शदपुरशुरूहोपाएहैं।शेषविद्यालयबजटनहोनेकेचलतेशुरूनहींहोपाएहैं।सीसीटीवीकैमरोंऔरफर्नीचरकेलिएबजटकाअभावझेलनापड़रहाहै।नकलविहीनपरीक्षाकरानेकीतैयारीमेंविभागजुटाहुआहै।वर्षभरकेघटनाक्रम

-पुरानीपेंशनबहालीकेलिएजमकरआंदोलनहुआ।सातवेंवेतनआयोगमेंसुधारोंकीमांगोंऔरप्रमोशनकोलेकरशिक्षकआंदोलनकरतेरहे।

-पहलेजनपदमेंअंग्रेजीमाध्यमकेसिर्फदोस्कूलहुआकरतेथे,लेकिनइसवर्षप्रत्येकब्लॉकमेंअंग्रेजीमाध्यमकेपांचविद्यालयखोलनेकेआदेशजारीहुए।

-विद्यालयोंमेंबच्चोंकोबांटेगएस्वेटरकाभुगताननहींहुआहै।जिसकेचलतेप्रधानाध्यापकपत्राचारकररहेहैं।

-वहींमिड-डेमिलबनानेवालेरसोइयोंकापिछलेचारमाहसेमानदेयनहींमिलाहै।रसोइयोंकोएकहजाररुपयेप्रतिमाहदियाजाताहै।साथहीकन्वर्जनकॉस्टमेंभीबढ़ोतरीनहींहुईहै।

-प्राथमिकविद्यालयनवादाकीशिक्षिकारेनूदेवीनेजिलेकानामरोशनकिया।उन्होंनेसूचनाएवंसंचारतकनीककेलिएउन्हें28दिसंबरमेंलखनऊमेंबेसिकशिक्षाविभागकेनिदेशकद्वारासम्मानितकियाजाएगा।

-उच्चप्राथमिकविद्यालयहृदयपुरकीशिक्षिकाबुशरासिद्दीकीनेआयोजितप्रतियोगितामेंप्रदेशमेंप्रथमस्थानप्राप्तकियाहै।इनकीआवाजमेंकहानीप्रस्तुतीकीजाएगी।वहींप्राथमिकविद्यालयट्यालाकीसहायकअध्यापिकाकोमलत्यागीनेजनपदसिद्धार्थनगरमेंआयोजितहोनेवालेमहोत्सवमेंजनपदकेमंडलकाप्रतिनिधित्वकिया।

-पढ़ोहापुड़अभियानकेअंतर्गतकक्षातीनसेपांचतककेबच्चोंकोग्रेडेडलर्निंगकार्यक्रमकेअंतर्गतप्रथमसंस्थाकेसहयोगसेप्रशिक्षितकियाजारहाहै।माध्यमिकशिक्षाविभाग

-इसवर्षशैक्षिकपंचांगव्यवस्थालागूहुई।पढ़ाईकाविषयवारशेड्यूलजारीहुआ।टीचर्सडायरीप्रत्येकविद्यालयमेंबनवाईगई।परीक्षाफलजनपदकापिछलेवर्षोंकेअपेक्षाबेहतररहा।

-जनपदकेपांचबच्चोंनेप्रदेशकीमेरिटलिस्टमेंस्थानप्राप्तकिया।खेलकूदमेंस्टेटलेवलतकजनपदकेखिलाड़ीपहुंचे।सलारपुरस्थितस्वतंत्रभारतइंटरकॉलेजकाछात्रनेशनलकेलिएतैयारीकररहाहै।

-वर्तमानमेंजनपदकेमाध्यमिकशिक्षाविभागकेविद्यालयशिक्षकोंकीकमीसेजूझरहेहैं।इसवर्षभीशिक्षकोंकीभर्तीनहींहोपाई।जोशिक्षाकेक्षेत्रमेंबेहद¨चताकाविषयहै।

बेसिकशिक्षाविभागकेस्कूलोंमेंपहलेसेकाफीबेहतरसुविधाएंदीजारहीहैं।मॉडलस्कूलऔरअंग्रेजीमाध्यमकेस्कूलखोलेगएहैं।विद्यालयोंमेंमूलभूतसुविधाओंकोपूराकियाजारहाहै।ऑपरेशनकायाकल्पकेतहतस्कूलोंकीव्यवस्थासुधारीजारहीहै।अभीऔरसुधारकीजरूरतहै।जिसमेंबेसिकशिक्षाविभागकीटीमलगीहै।

-देवेंद्रगुप्ता-बेसिकशिक्षाअधिकारीजनपदमेंबोर्डकीनकलविहीनपरीक्षाकरानाचुनौतीहै।इससालविद्यालयोंमेंशैक्षिकपंचांगव्यवस्थालागूकीगईहै।शिक्षकोंकीकमीसेविभागजूझरहाहै।इससालशिक्षकनमिलनेसेमायूसीहै।बजटनआनेकेचलतेपुरानेजर्जरभवनमेंहीदफ्तरकाकामकाजपूराकियाजारहाहै।

-गजेंद्रकुमार-जिलाविद्यालयनिरीक्षक