बलरामपुर में 16 साल की लड़की को नक्सली बताकर मार दिया गया था, 11 साल बाद फैसला

रायपुरकीअदालतनेमीनाखलखोहत्याकांडमेंआरोपीपुलिसकर्मियोंकोबरीकरदियाहै।हालहीमेंइसमामलेकीसुनवाईकेबादआरोपियोंकोदोषमुक्तकरदियागया।न्यायालयसूत्रोंकेमुताबिकइसमामलेमेंधर्मदतधनियाऔरजीवनलालरत्नाकरकोबरीकियागयाहै।धर्मदतइनदिनोंमेंदिल्लीमेंहैं।जीवनलालरामानुंजगंजकेथानेमेंहेडकॉन्स्टेबलहैं।इनपर16सालकीलड़कीमीनाकोगोलीमारनेकाआरोपथा।6जुलाई2011मेंबलरामपुरकेलोंगरटोलामेंपुलिसफायरिंगमेंमीनाकीमौतहुईथी,तबपुलिसनेमीनाकोनक्सलीबतायाथा।

घटनाकेबादयानीकीसाल2011मेंमीनाखलकोहत्याकांडकेबादपुलिसपरफर्जीमुठभेड़काआरोपलगा।आदिवासीयुवतीकीमौतकेबादखासाबवालमचा।शासनकीओरसेन्यायिकजांचकेआदेशदिएगए।न्यायिकजांचमें42पुलिसअधिकारियोंऔरजवानोंपरहत्याऔरहत्याकेप्रयासकाकेसदर्जकियागया।जांचआयोगकीरिपोर्टकेआधारपरकेसदर्जकरनेकेबादपूरेकेसकीबारीकीसेपड़तालकाजिम्मासीआईडीकोसौंपागया।इसमामलेमेंपुलिसअफसरोंऔरजवानोंकाबयानलिएगए।

जांचकेदौरान46सेज्यादालोगोंकाबयानलियागया।इसमें42पुलिसकर्मीहै,थानाप्रभारी,जिलाबल,छत्तीसगढ़सशस्त्रपुलिसकी12वींऔर14वींबटालियनकेसिपाहीशामिलथे।इसकेअलावाघटनास्थलकेआसपासरहनेवालेलोगोंकोभीबयानलियागया।मीनाखलकोहत्याकांडमेंचांदोकेतत्कालीनप्रभारीउपनिरीक्षकएनखेसकेअलावाहवलदारललितभगत,महेशराम,विजेंद्रपैकरा,इंद्रजीतपैकरा,पंचरामध्रुव,श्रवणकुमार,भदेश्वरराम,मोहरकुजूर,संजयटोप्पो,मनोजकुमारसहितअन्यपुलिसकर्मियोंकोआरोपीबनायागयाहै।प्रारंभिकजांचकेबादसभीकोलाइनअटैचकियागयाथा।लेकिननामजदकेसदोकेहीखिलाफदर्जहुआथा।जिन्हेंअबबरीकियागयाहै

येथापूरामामला

बलरामपुरकेलोंगरटोलामें16सालकीआदिवासीकिशोरीमीनाखलखोकीगोलीलगनेसेमौतहुईथी।पुलिसनेमीनाकोनक्सलीबतायाथा।पुलिसवालोंनेदावाकियाकियाथाकिझारखंडसेआएनक्सलियोंकेसाथदोघंटेतकचलीमुठभेड़केदौरानमीनाकोगोलीलगीथी।वहनक्सलियोंकेवर्दीमेंथी।उसनेभीपुलिसपरफायरिंगकीथी।मुठभेड़स्थललोंगराटोलाऔरमीनाकेगांवकरंचाकेग्रामीणोंकाकहनाथाकिउसरातउन्होंनेकेवलतीनगोलियोंकीआवाजसुनीथी।मीनाकेपरिजनों,राजनीतिकदलोंऔरगैरसरकारीसंगठनोंनेआरोपलगायाथाकिपुलिसकर्मियोंनेमीनाकाअपहरणकरउसकेसाथदुष्कर्मकियाऔरबादमेंउसेमौतकेघाटउतारदियाथा।