बनने के महज 24 घंटे बाद ही उखड़ने लगी सड़क, गया में दो करोड़ बजट वाली सड़क की अफसरों ने की जांच

टिकारी(गया),संवादसहयोगी।जिससड़ककाबजटदोकरोड़रुपयेकाहोऔरवहबननेकेकुछदिनोंबादहीउखड़नेलगेतोइसेक्‍याकहेंगे।खैरगयाजिलेकेटिकारीप्रखंडअंतर्गतरेबई-लोदीपुर-अमरपुरसड़कनिर्माणमेंगड़बड़ीकामामलासामनेआनेकेबादबुधवारकोग्रामीणकार्यविभाग,प्रमंडलटिकारीकेअधिकारियोंकीएकटीमपहुंची।इसमामलेमेंकीगईशिकायतकीजांचकी।

कार्यपालकअभियंताकेनेतृत्‍वमेंटीमनेकीजांच

विभागकेकार्यपालकअभियंतारुपेशकुमारकेनेतृत्वमेंगईअधिकारियोंकीटीमनेउनजगहोंकीजांचकीजहांलेवलिंगकाप्रीमिक्सकिंगमटेरियलउखड़गयाथा।अधिकारियोंकीटीमनेमैटेरियलबिछानेसेपूर्वइमल्सनकेप्रयोगकीमात्रा,मैटेरियलकीगुणवत्ता,थिकनेससहितबननेकेसाथउखड़नेकेकारणोंकेतकनीकीपहलुओंकीभीजांचकी।जांचप्रक्रियाकेबादकार्यपालकअभियंतानेसंवेदकमुकेशकुमारकोक्षतिग्रस्तसड़कोंकीगुणवत्तापूर्णमैटेरियलकेसाथपुनःमरम्मतकरने,निर्माणकार्यकेदौरानभारीवाहनोंकीआवाजाहीपररोकलगानेकेलिएबैरियरलगानेआदिकईआवश्यकदिशानिर्देशदिए।

इससंबंधमेंजेईमनोजकुमारनिरालानेबतायाकिजांचकेदौरानसंवेदककोगुणवत्तापूर्णसड़कनिर्माणकीसख्तहिदायतदीगईहै।जांचटीममेंविभागकेसहायकअभियंताअविनाशकुमारसहितअन्यअधिकारीशामिलथे।जांचकेदौरानरेबईग्रामकेशिकायतकर्ताएवंबड़ीसंख्यामेंस्थानीयग्रामीणमौजूदथे।

सचिवसमेतअन्‍यअधिकारियोंसेकीगईथीशिकायत

यंहाबतादेंकिअनुरक्षणनीति2018केतहतउक्तसड़कजिसकीलंबाई4.8किमीहैलगभगदोकरोड़कीलागतसेनिर्माणकरायाजारहाहै।मालूमहोकिरेबईकेग्रामीणोंनेसड़कनिर्माणमेंव्यापकअनियमितताएवंगड़बड़ीकीलिखितशिकायतग्रामीणोंनेविभागकेकार्यपालकअभियंतासेकरतेहुएउसकीप्रतिलिपिसचिवपथनिर्माणविभाग,जिलापदाधिकारीगयाऔरएसडीओटिकारीकोभेजीथी।सड़कनिर्माणके24घंटेकेअंदरजगहजगहउखड़नेलगीथी।