बोआरीजोर में शिक्षकों की मर्जी से खुलता विद्यालय

संवादसहयोगी,बोआरीजोर:कोरोनामहामारीवलाकडाउनकीवजहसेतकरीबन22माहतकझारखंडकेस्कूलोंमेंसामान्यपठन-पाठनबाधितरहनेकेबादइसीमाहसातफरवरीसेस्कूलोंकोपुन:खोलनेऔरआफलाइनपढ़ाईकीइजाजतदीगईहै,लेकिनबोआरीजोरप्रखंडकीमेघीपंचायतअंतर्गतबड़ाकेरागांवकास्कूलअबभीबंदहै।ग्रामीणोंकीशिकायतहैकिशिक्षकअपनीमनमर्जीसेविद्यालयचलातेहैं।उनकीजबइच्छाहोतीहैविद्यालयआएऔरजबमनकियातालाबंदकरनिकललिए।बुधवारकोग्रामीणदेवापहड़िया,मंगलीपहाड़िन,धर्मापहड़िया,गंगीपहाड़िन,मरियममलतोआदिनेबतायाकिइधरविद्यालयखुलनेकेबादसेशिक्षक2बारविद्यालयआएहाजिरीबनाईऔरघंटेभरमेंस्कूलबंदकरनिकललिए।हालातयेहैकिज्यादातरबच्चेपढ़ाई-लिखाईभूलचुकेहैं।स्कूलबंदरहनेकेकारणबच्चोंकोपढ़नेकेलिएअबदूसरेस्कूलमिशनवअन्यजगहभेजनापड़ताहै।दिवाकालीनविद्यालयतलबड़ियाकाभीहालयहीहै।यहांलाकडाउनकालसेहीविद्यालयमेंशिक्षकनहींपहुंचरहे।इधरमामलेपरप्रखंडशिक्षाप्रसारपदाधिकारीमुकुंदमरांडीनेकहाकिस्कूलकाबंदरहनाघोरअनियमितताहै,जांचकरशिक्षकोंपरकार्रवाईकीजाएगी।