चार महीने गुजरे, किताबें मिलना बाकी

सीतापुर:शैक्षिकसत्रशुरूहुएलगभगचारमाहहोचुकेहैं,लेकिनबच्चोंकोपाठ्यक्रमकीपुस्तकेंनहींमिलसकीहैं।विभागकादावाहैकिजिलेमेंआई21लाखपुस्तकोंमेंसेमहज80हजारपुस्तकेंहीबचीहैं,जबकि20लाखसेअधिकपुस्तकेंबीआरसीतकपहलेहीपहुंचाईजाचुकीहैं।हालांकिकक्षाचारवपांचकीपुस्तकेंअभीतकविभागकोमिलनहींसकीहैं।शुक्रवारकोस्कूलोंकीपड़तालकीगईतोअधिकांशविद्यालयोंमेंनईपुस्तकेंनपहुंचनेकेकारणशिक्षकबीतेवर्षकीकिताबोंसेबच्चोंकोतालीमदीजारहीहै।

थानगांव:प्राथमिकविद्यालयसरैयांमेंबच्चोंकोपिछलेवर्षकीपुरानीकिताबोंसेपढ़ायाजारहाथा।प्रधानाध्यापकजगदीश¨सहनेबतायाकिअभीकिताबेंनहीमिलीहैं।उच्चप्राथमिकविद्यालयग्वारीकेप्रधानाध्यापकअर¨वदमिश्रनेबतायाकिपुस्तकेंनहींमिलीहैं,बीतेशिक्षणसत्रमेंजोबच्चेउत्तीर्णहुएथेउनकीकिताबोंसेशिक्षणकार्यकियाजारहाहै।

बिसवां:प्राथमिकविद्यालयसेक्सरियामेंकक्षाएकसेतीनतककीपुस्तकेंवितरितकीजाचुकीहैं।प्रधानाध्यापकभारतीदेवीनेबतायाकिचारवपांचकीकिताबेंअभीतकनहींआईहैं।

पिसावां:बीआरसीपरपुस्तकेंपहुंचनेकेबादभीअभीतकविद्यालयोंमेंइनकावितरणनहींहुआहै।प्राथमिकविद्यालयअल्लीपुरमेंप्रधानाध्यापकसुरेशकुमारनेबतायाकिकिकक्षाचारवपांचकीकोईकिताबेंनहींमिलीहैं,जबकिकक्षातीनकीरैनबोनहींमिलसकीहै।

अटरिया:प्राथमिकविद्यालयअलाईपुरमेंभीकक्षाचारवपांचकेबच्चेबीतेवर्षकीपुरानीकिताबोंसेपढ़ाईकरतेमिले।

भदफर:बेहटाब्लॉककेप्राथमिकविद्यालयठोलनापुरमेंअभीतकपुस्तकेंनहींमिलीहैं।उच्चप्राथमिकविद्यालयठोलनापुरतथाप्राथमिकविद्यालयतेजवापुरमेंभीपाठ्यपुस्तकेंअभीनहींवितरितहुईहैं।स्कूलोंतकपुस्तकोंकानपहुंचनागंभीरहै।इसमेंकिसस्तरपरलापरवाहीबरतीजारहीहैइसकीपड़तालकराईजाएगी।सभीबीईओकोदोदिनोंमेंपुस्तकेंविद्यालयतकपहुंचजाएंइसकीजिम्मेदारीतयकीजाएगी।

अजयकुमार,बीएसए