डीएम की जांच में फंसे डिप्टी कलेक्टर

अयोध्या:डिप्टीकलेक्टररामशंकरकीमुसीबतबढ़नेजारहीहै।उनकेखिलाफइनोवागिफ्टवदाखिलखारिजकेनौमुकदमोंकीजांचपूरीहोगईहै।जिलाधिकारीअनुजकुमारझानेइनोवागिफ्टकीजांचमुख्यविकासअधिकारीप्रथमेशकुमारवदाखिलखारिजकेनौमुकदमोंकीजांचमुख्यराजस्वअधिकारीपुरुषोत्तमदासगुप्तकोसौंपीथी।दोनोंअधिकारियोंनेजांचरिपोर्टजिलाधिकारीकोसौंपदीहै।जिलाधिकारीनेबतायाकिडिप्टीकलेक्टरकेखिलाफकार्रवाईकेलिएवहजांचरिपोर्टशासनभेजरहेहैं।डिप्टीकलेक्टरकेखिलाफयहजांचएकशिकायतपरजिलाधिकारीनेकराईहै।शिकायतदाखिलखारिजकेमुकदमेसेजोड़तेहुएइनोवागिफ्टकिएजानेकीथी।

कोतवालीनगरमेंइसइनोवाकोखड़ाकराएकरीबएकमहीनेसेज्यादाहोगया।डिप्टीकलेक्टरकाउसवक्तकहनाथाकिहोलीमेंघरउन्नावजानेकेलिएरविबंसलसेइसेमंगायाथा।लॉकडाउनकीवजहसेकहनेकेबावजूदवहलेनहींगए।सीडीओनेइनोवावाहन70बीयू9000केमालिकअखिलेशदुबेकेअलावारविबंसल,अरविदमौर्यसमेतअन्यकेबयानजांचकेलिएवीडियोग्राफीकेबीचदर्जकराये।दाखिलखारिजकेजिननौमुकदमोंकानिस्तारणसहायकअभिलेखअधिकारी(एआरओ)रहतेरामशंकरनेकियाउसभूमिसेरविबंसल,अरविदमौर्यआदिकाजुड़ावहै।इनसभीमुकदमोंमें16अगस्त2019कोइनसबकेपक्षमेंआदेशपारितकियागयाहै।दाखिलखारिजकीपत्रावलियोंमेंनियमसेहटकरआदेशपारितकरनेकाआरोपसीआरओकीजांचमेंप्रमाणितहै,जिसकीजिलाधिकारीभीतस्दीककरतेहैं।

एआरओपदसेशिकायतबढ़नेकेबादजिलाधिकारीउन्हेंहटाचुकेहैं।सूत्रोंकेअनुसारजांचमेंइनोवावदाखिलखारिजकेसभीनौमुकदमोंकाएक-दूसरेसेकनेक्शनपायागया।दाखिलखारिजकीयहभूमिमीरापुरद्वाबामेंलगभग30बीघाहै।पहलेयहींभगवानरामकीप्रतिमालगनीथी।तकनीकीकमेटीकेअनफिटकरनेसेयहांकाप्रस्तावनिरस्तहोगया।