'दिल्ली एसीबी ने 2002 का CNG फिटनेस घोटाला मामला फिर खोला'

नईदिल्ली:दिल्लीसरकारकेभ्रष्टाचारनिरोधकब्यूरो(एसीबी)नेएकमहत्वपूर्णकदमकेतहतवर्ष2002का100करोड़रुपयेकाकथितसीएनजीफिटनेसघोटाला‘फिरखोलदियाहै’जिसमेंशीलादीक्षितसरकारकेतहतकामकरचुकेतीनशीर्षअधिकारीजांचकेघेरेमेंहैं।

नईदिल्ली:

शीर्षसरकारीसूत्रोंनेबताया,‘एसीबी2002केसीएनजीफिटनेसघोटालामामलेकोफिरखोलरहीहैजिसमेंशीलादीक्षितसरकारकेतहतकामकरचुकेतीनशीर्षबाबूजांचकेघेरेमेंहैं।’उन्होंनेकहाकिएसीबीने2012मेंवर्ष2002के100करोड़रुपयेकेकथितसीएनजीफिटनेसघोटालेकेप्रकरणमेंमामलादर्जकियाथा।

‘आपकीपूर्वकी49दिनकीसरकारकेदौरानजांचएजेंसीद्वाराघोटालेसेसंबंधितकुछकागजातमांगेजानेकेबादअरविन्दकेजरीवालनेकहाथाकिसीबीआईकोसभीदस्तावेजमुहैयाकराएजाएंगे।

उन्होंनेकहा,‘लेकिनमामलेकीजांचअटकगईक्योंकिकेजरीवालसरकारनेइस्तीफादेदिया।’उन्होंनेकहाकिक्योंकिअबराजधानीमेंनिर्वाचितसरकारहै,एसीबीमामलेकीगहनजांचकरेगी।सूत्रोंनेदावाकियाकिअधिकारियोंसेपूछताछकीअनुमतिनहींमिलनेसेजांचअटकगईथी।

आमआदमीपार्टीनेपिछलेसालदिसंबरमें2002केसीएनजीफिटनेसघोटालेकेमामलेकोउठायाथाऔरसीबीआईद्वारादिल्लीसरकारकेशीर्षनौकरशाहोंकोआरोपीबनाएजानेपरकेंद्रसरकारऔरदिल्लीकेउपराज्यपालनजीबजंगकी‘जारीखामोशी’परनिशानासाधाथा।