दो कमरे में वर्ग आठ तक की होती है पढ़ाई

सहरसा।प्रखंडकेकढैयापंचायतअंतर्गतमध्यविद्यालयफोरसाहामेंभवनकीकमीकेकारणविद्यार्थियोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।भवनकेअभावमेंबाहरमेंशिक्षणकार्यकियाजाताहै।जानकारीकेअनुसारविद्यालयमेंनामांकितविद्यार्थियोंकीसंख्या362है।वर्गप्रथमसेवर्गआठतककीयहांपढ़ाईकीव्यवस्थाहै।दसशिक्षकभीपदस्थापितहैं।लेकिनछात्रोंकोबैठनेकेलिएमात्रदोकमरेकाभवनहै।जिसमेंवर्गएकसेआठतककेविद्यार्थीकिसीतरहबैठतेहैं।विद्यालयपरिसरमेंदोरूमकाअन्यभवनभीबनाहुआहै,लेकिनभवनकाप्लास्टरएवंखिड़की,गेटनहींलगेरहनेकेकारणउक्तभवनमेंछात्रोंकोबैठनेमेंपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।विद्यालयकेशिक्षकोंनेबतायाकिविद्यालयकेजमीनमेंविवादरहनेकेकारणनयाभवननहींबनरहाहै।विद्यालयपरिसरमेंजमीनउपलब्धहै।लेकिनविभागकीतरफसेठोसदिशानिर्देशनहींआनेकेकारणमामलाअधरमेंलटकाहुआहै।भवनकेकमीकेकारणछात्रकीउपस्थितिभीकाफीकमरहतीहै।