एसीबी की नोटिस के बाद पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा- मैनहर्ट परामर्शी को भुगतान उच्च न्यायालय के आदेश पर हुआ, मुख्यमंत्री थे अर्जुन मुंडा व वित्त मंत्री हेमंत सोरेन

जमशेदपुर,जासं।झारखंडकेरांचीमेंसिवरेज-ड्रेनेजनिर्मणकाडीपीआरतैयारकरनेकेमामलेमेंमैनहर्टपरामर्शीकीनियुक्तिकीगईथी।इसनियुक्तिमेंहुईअनियमितताऔरभ्रष्टचारमामलेएंटीकरप्शनब्यूरो(एसीबी)नेपूर्वमुख्यमंत्रीरघुवरदासकोनोटिसभेजाहै।इसनोटिसकेराजनीतिकदांव-पेंचफिरसेशुरूहोगई।झारखंडकीराजनीतिगरमागईहै।पूर्वमुख्यमंत्रीरघुवरदासनेभीपलटवारकरतेहुएशुक्रवारकोकहाकिउन्हेंजांचसेकोईपरहेजनहीं,लेकिनजांचनिष्पक्षहोनाचाहिए।

पूर्वमुख्यमंत्रीरघुवरदासनेकहाकिमेनहर्टकेमामलेपरकुछलोगराजनीतिकरोटीसेंककरअपनागुजाराकररहेहैं।    2005सेअबतकइसमामलेमेंआरोपोंकेअलावाकुछनहींमिलाहै।इसबीचमेंकईसरकारेंआईंऔरचलीगई।

उन्होंनेकहाकिवर्ष2011मेंउच्चन्यायालयकेआदेशकेबादकंपनीकोभुगतानकियाथा,उससमयअर्जुनमुंडामुख्यमंत्रीऔरहेमंतसोरेनवित्तमंत्रीथे।फिरभीराज्यसरकारचाहेजिसएजेंसीसेजांचकराये,वेघबरानेवालेलोगोंमेंसेनहींहै।उन्होंनेमांगकीकिनिष्पक्षजांचकराकरसरकारइसमामलेकापटाक्षेपकरे,ताकिकुछलोगजोइसेलेकरअपनीराजनीतिचमकानेमेंलगेरहतेहैं,उनकोजवाबमिलजाए।साथहीयदिइसकीजांचकराईजायेकिजिसकंपनीकोउसकेनिक्कमेपनकेकारणहटाकरमैनहर्टकोकार्यदियागयाथा,उसकंपनीकेपैरोकारकौनहै।इसमेंउनकाक्यालाभथा,कंपनीकादफ्तरकिसकेपरिसरमेंथा,तोउनकीपोलअवश्यखुलजायेगी।झारखंडमेंईमानदारीकाचोलाओढ़करकुछलोगभ्रष्टाचारकेनालेमेंडुबकियांलगारहेहैं,जल्दहीउनकाचेहराभीबेनकाबहोगा।उन्हेंमुंहछिपानेकेलिएजगहनहींमिलेगी।