गोगरी सर्किल नंबर एक में भगवान भरोसे सरकारी विद्यालय

संवादसूत्र,महेशखूंट(खगड़िया):विभागीयउदासीनताऔरअधिकारियोंकीलापरवाहीकेकारणगोगरीकेसर्किलनंबरएकमेंसरकारीशिक्षाव्यवस्थाकीदयनीयस्थितिबनीहुईहै।जहांसरकारकीगुणवत्तापूर्णऔरबेहतरशिक्षाव्यवस्थाकादावाधरातलपरनजरनहींआताहै।सोमवारकोपकरैलपंचायतकेविद्यालयोंकाजायजालियागया।इसदौरानकुव्यवस्थादिखी।प्राथमिकविद्यालयशादीपुरपकरैलमेंबच्चोंकेलिएपेयजलकीभीव्यवस्थानहींदिखी।विद्यालयकेचापाकलकाहेडगायबथा।बच्चोंकेसमक्षपेयजलसंकटहै।पूछनेपरप्रधानाध्यापकबबिताकुमारीनेबतायाकिकोरोनाकालमेंगांवकेदोपक्षोंमेंविवादहुआ।मारपीटकेक्रममेंचापाकलकाहेडतोड़करगिरादियागयाथा।जिसकेबादसेचापाकलखराबपड़ाहै।हालांकिविद्यालयमेंनलजलयोजनाकेतहतनलेलगेदिखे।परनलसेजलनिकलतानहींदिखा।पूछनेपरबतायागयाकिसमयपरपानीआताहै।

वहींमध्यविद्यालयभर्राकीस्थितिबाहरसेदेखऐसालगाकियहचारागाहहो।परिसरमेंरसोईघरकेनिकटगायबंधीथी।आसपासगंदगीफैलीथी।यहींसेबच्चेकाखानाबनताहै।प्रधानाध्यापकमनोजकुमारसिंहसेपूछागयातोउनकाकहनाहुआकिगांववालेगायबांधदेतेहैं।प्राथमिकविद्यालयघनश्यामनगरभर्रामेंशौचालयकीसमस्याहै।शौचालयजर्जरहोबेकारपड़ाहै।जिसेशिक्षकवबच्चोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।वहींमैरापंचायतकेमध्यविद्यालयबदियामेंवर्गछहऔरसातकेछात्र-छात्राकीवार्षिकपरीक्षाहोरहीथी।यहांमात्रएकशिक्षकप्रफुल्लकुमारमौजूददिखे।पूछनेपरबतायाकिप्रधानाध्यापकसंजीवकुमारबीआरसीगएहैं।एकशिक्षकचंदनकुमारछुट्टीपरहैं।दूसरेशिक्षककापतानहींहै।ग्रामीणोंकेअनुसारविद्यालयकीयहीस्थितिहै।शिक्षकअक्सरगायबरहतेहैं।विद्यालयनामकाखुलताहै।