ईरान में भारतीय वैज्ञानिक कोविड-19 जांच के लिए अस्थायी लैब नहीं बना सके : आधिकारिक सूत्र

नयीदिल्ली,13मार्च(भाषा)ईरानमेंफंसेभारतीयोंकीनॉवेलकोरोनावायरसकीजांचकेलिएवहांमौजूदभारतीयवैज्ञानिकोंकोअधिकारियोंनेसुरक्षाकारणोंकाहवालादेतेहुएअस्थायीलैबोरेटरीबनानेकीअनुमतिनहींदीहै।ईरानसेअभीतककरीब1200भारतीयोंकेलारकेनमूनेजांचकेलिएभारतलाएगएहैंऔरउनकीजांचकीजारहीहैकिवेखतरनाकवायरससेसंक्रमितहैंअथवानहीं।आईसीएमआर-एनआईवी,पुणेकेचारवैज्ञानिकतेहरानमेंहैंऔरवेनमूनेइकट्ठेकररहेहैं।एकसूत्रनेबताया,‘‘उन्होंनेबतायाकिवेअस्थायीलैबोरेटरीसुविधानहींबनासकेक्योंकिवहांकअधिकारियोंनेकहाकिवेउन्हेंसुरक्षानहींदेसकेंगे।वेअबभीतेहरानमेंहैंऔरलारकेनमूनेइकट्ठाकररहेहैं।’’कोरोनावायरससेप्रभावितईरानसे58भारतीयोंकोभारतीयवायुसेनाकेएकमालवाहकविमानसेवापसलायागयाजबकि44भारतीयजायरीनकादूसराजत्थाशुक्रवारकोयहांईरानकेकोमशहरसेपहुंचा।एकअधिकारीनेबतायाकिईरानसेभारतीयजायरीनोंकोलेकरईरानएयरकाएकविमानशुक्रवारकीदोपहरमुंबईहवाईअड्डेपरपहुंचा।कोरोनावायरससेईरानबुरीतरहप्रभावितहैऔरसरकारवहांफंसेभारतीयोंकोवापसलानेपरकामकररहीहै।ईरानमेंफंसेअधिकतरछात्रऔरजायरीनहैं।वहांएकहजारभारतीयमछुआरेभीफंसेहुएहैं।