जागरण जल सेना ने जल संरक्षण को बनाया शॉकपिट

जामताड़ा:जिलेकेविभिन्नसरकारीवनिजीविद्यालयोंमेंगठितजागरणजलसेनानेरविवारकोस्कूलपरिसरमेंपौधरोपणकअलावाअपनेआवासीयपरिसरमेंकच्चाशॉकपिटकानिर्माणकरजलसंरक्षणकीशुरुआतकी।मौकेपरराजकीयकृतमध्यविद्यालयखैरबनीके10सदस्यीयजागरणजलसेनामेंलक्ष्मीकिस्कू,सिबलमुर्मू,सपनासोरेन,संदीपबास्की,सिलेशहेम्ब्रम,सुष्मिताबेसरा,किरणकुमारी,सरिताकिस्कू,पूजाकुमारी,मोदीमरांडी,रितेशकुमारपंडित,पीयूषकुमारमंडल,देवराजमरांडीवसोनालीकुमारीनेविद्यालयपरिसरमेंकच्चाशॉकपिटकानिर्माणकिया।

कहाकिभविष्यमेंअपनेआवासीयपरिसरमेंऔरशॉकपिटकानिर्माणकरनेकाकामकरेंगे।इसीप्रकारउच्चविद्यालयमंझलाडीहवउच्चविद्यालयकरमाटांड़,राजकीयमध्यविद्यालयडुमरिया,उत्क्रमितमध्यविद्यालयगुहियाजोरीसमेतअन्यविद्यालयोंमेंजागरणजलसेनानेपौधरोपणकरभविष्यमेंपौधाकेसंरक्षणकासंकल्पलिया।मौकेपरप्रधानशिक्षकमिनोतीरॉयनेबतायाकिप्रत्येकछात्रकोसालमेंकमसेकम10पौधेअवश्यलगानाचाहिए।उन्होंनेबतायाकिकेवलपौधेरोपदेनेमात्रसेजिम्मेदारीखत्मनहींहोजातीहै।छोटेसेपौधेकीशुरुआतसेहीबड़ेहोनेतकनिगरानीरखनीहोगी।इसकेआसपासकेइलाकेकीसाफसफाईकेबादजरूरतकेअनुरूपसमयपरपानीवखादभीडालनाहै।इन्हेंपशुओंसेभीबचानाहै।

जागरणजलसेनामेंशामिलसंदीपकुमारनेबतायाकिपर्यावरणसुरक्षासेहीहमेंपानीउपलब्धहोगा।पूजाकुमारीनेबतायाकिबारिशकेपानीकोसेबचानेकेलिएशिक्षकोंनेसोख्ताबनानेकेलिएनिर्देशदियाहै।सोख्तानिर्माणकेलिएजगहचयनकरलियागयाहै।स्कूलपरिसरमेंसोख्तातैयारहोतेहीस्कूलबिल्डिगकीछतवबाहरगिरकरबेकारबहजानेवालेजलकासंरक्षणहोगा।रितेशकुमारनेबतायाकिपहलेहमेंसोख्तातैयारकरजलसंरक्षणकेविषयमेंजानकारीनहींथी।जलसंरक्षणविषयकोपाठ्य-पुस्तकमेंशामिलकरनाचाहिए,ताकिछात्रोंकोजलसंरक्षणकेविषयमेंज्ञानमिलसकेगा।इससेलोगोंमेंजागरूकताभीबढ़ेगी।