जांच के दायरे में 200 दिव्यांग शिक्षक, विभाग में खलबली

जागरणसंवाददाता,उन्नाव:बीएडवडीएलएडकीफर्जीडिग्रीमामलेकीजांचकररहीएसटीएफवएसआइटीनेअबबेसिकशिक्षामेंदिव्यांगश्रेणीकेतहतहुईनियुक्तियोंकोजांचघेरेमेंलियाहै।इसमेंदिव्यांगताकीश्रेणीऔरउससेजुड़ेप्रमाणपत्रकीवैधताकीजांचहोगी।जिलामुख्यालयनेस्कूलवारजानकारीजुटानेकेबादकरीब200शिक्षकोंकीसूचीबेसिकशिक्षापरिषदकोभेजीहै।इससेमहकमे

कस्तूरबागांधीआवासीयबालिकाविद्यालयमेंअनामिकाप्रकरणकेबादफर्जीवाड़ेकाराजफाशकरनेमेंजुटीजांचएजेंसियोंनेबीतेदिनों

दिव्यांगशिक्षकोंकीसूचीकोतलबकियाहै।यहांपरसंदेहहैकिकईशिक्षकोंनेफर्जीतरीकेसेदिव्यांगताकाप्रमाणपत्रबनवानियुक्ति

मेंअपनारास्तासाफकियाहै।दिव्यांगताकीश्रेणीवमानकोंकेआधारपरऐसेशिक्षकोंकापर्दाफाशकियाजाएगा।बीएसएप्रदीपकुमारपांडेयकेअनुसारदिव्यांगशिक्षकोंकेप्रपत्रोंकीजांचकोलेकरहरब्लाकसेजानकारीमांगीगईथी।जिलास्तरपरगठितप्रशासनिकअधिकारियोंकीटीमनेभीप्रपत्रोंकासत्यापनकियाहै।परिषदसेमांगीजानेवालीजानकारियोंकोलेकरसमयपरकार्यवाहीकीजारहीहै।जिलेसेदिव्यांगशिक्षकोंकेनामोंकीसूचीभेजीजाचुकीहै।इनकेप्रपत्रोंकीजांचहोनीहै।शिक्षाधिकारियोंकाकहनाहैकिसुमेरपुर,सिकंदरपुरकर्ण,सिकंदपुरसरोसी,बिछिया,नवाबगंजआदिब्लाकोंसेमिलीसूचीकेआधारपरशिक्षकोंकीसंख्याकरीब200है।शासनस्तरकार्रवाईहोगी।