जिला अस्पताल का टीबी विभाग बाहर से लिख रहा जांच

सीतापुर:कमीशनकेखेलमेंस्वास्थ्यकर्मीप्राइवेटपैथोलॉजीसेजांचकरारहेहैंऔरविभागकेमुखियाकोकुछपताहीनहींहैं।एकऐसाहीमामलाजिलाअस्पतालमेंसामनेआयाहै।इमलियासुल्तानपुरइलाकेकेगांवहथियानिवासीसर्वेशशुक्लानेबतायाकिउनकीबेटीपूजाशुक्ला(10),बेटाआलोकशुक्ला(8)केगर्दनमेंबड़ीगिल्टियांनिकलीथीं।कुछलोगोंनेबतायाकिटीबीकेलक्षणहोसकतेहै।येसुनकरवेबच्चोंकोलेकरजिलाअस्पतालकेटीबीविभागपहुंचे।यहांस्वास्थ्यकर्मियोंनेबच्चोंकोदेखनेकेबादउनकीजांचबाहरसेप्राइवेटनिदानपैथोलॉजीकेलिएलिखदिया।सर्वेशनेआर्थिकतंगीकाहवालादेकरबाहरसेजांचनकरानेकीगुजारिशकी,इसपरस्टॉफनेकहाकि15दिनपहलेआएहोतेतोबातबनजाती।बच्चोंकीएफएनएकीजांचहोनीहै,जोबाहरसेहीकरानीपड़ेगी।मजबूरीमेंसर्वेशनेबाहरजाकर12सौरुपयेखर्चकरबच्चोंकीजांचकराई।

पीड़ितपिताकेअनुसारस्वास्थ्यकर्मीहीसरकारीपर्चेपरबाहरसेजांचकराएंगेतोसरकारकीसुविधाओंकागरीबोंकोलाभकैसेमिलेगा?कहींबाहरसेजांचकरानेमेंकमीशनकाखेलतोनहीं?

जिलाक्षयरोगअधिकारीमुसाफिरयादवसेइसबारेमेंबातकीगईतोवेकुछदेरतकइधर-उधरकीबातेंकरगोलमोलजवाबदेतेरहे।बादमेंबोलेकि,ऐसाकैसेहोसकताहै।इसकीजांचहोगी।मामलाबेहदगंभीरहै।स्वास्थ्यकर्मीबाहरसेजांचनहींलिखसकता।इसमामलेकोलेकरडीटीओसेबातकरुंगा।बाहरसेजांचलिखनेपरकार्रवाईहोगी।

डॉ.आरकेनैयर,सीएमओ