जिले में खाली पड़े 38 कृषि विकास अधिकारियों के पद

जागरणसंवाददाता,कैथल:जिलेमेंकृषिसेजुड़ीयोजनाओंकोधरातलतकपहुंचानेऔरउन्हेंलागूकरानेवालेकृषिविकासअधिकारियों(एडीओ)के43मेंसे38पदखालीपड़ेहैं।इससेलोगोंतककृषियोजनाएंनहींपहुंचपारहीहै।

कृषिकार्यालयकाकामकाजभीपूरीतरहसेप्रभावितहोरहाहै।सरकारकीयोजनाओंसेसंबंधितकिसानोंकीकागजीकार्रवाईकाफीसमयतकअधूरीरहतीहै।एकविकासअधिकारीकेपासकई-कईजगहोंकाचार्जमिलाहुआहै।इससेविकासअधिकारीकेएकदिनकिसीकार्यालयतोदूसरेदिनदूसरेकार्यालयपहुंचनापड़ताहै।अधिकारियोंकोभीकामकरनेमेंपरेशानीआरहीहैं।कृषिविभागमेंकिसानोंतककृषिसंबंधितयोजनाएंपहुंचानेकेलिएइनपदोंकोरखागयाहैताकिआनेवालेसमयकीआधुनिकतरीकेकीकृषिकीजानकारीपहुंचाईजाए।

जिलेमेंहैं43स्वीकृतपद

बतादेंकिपिछलीकईसालोंसेकृषिविभागमेंइनअफसरोंकेखालीपड़ेपदोंकोभरनेकेलिएगंभीरतानहींदिखाईहै।इससेकिसानोंकेसमयपरकामपूरेनहींहोरहेहैं।जिलेकेविकासअधिकारीअफसरोंकेअधिकृतपदोंकीसंख्याकरीब43हैं,जिनमेंसे38केकरीबपदोंपरअफसरतैनातनहींहैं।सीटेंसेवानिवृतवपदोन्नतकेबादखालीहोचुकीहै।अफसरोंकीइसीकमीकीवजहसेमौजूदाकृषिअफसरभीअतिरिक्तकार्यभारऔरवर्कलोडकेभारतलेदबेहुएहैं।

यहहैएडीओकेकार्य-

किसानोंकोकृषिकीवैज्ञानिककृषिविश्वविद्यालयोंसेआईनवीनतमजानकारीकिसानोंतकपहुंचाना।नवीनतमबीजकेबारमेंजानकारीदेना,फसलबीमायोजनाकोलागूकरना,मृदास्वास्थ्यपरीक्षण,बीजउपचारकेसाथकिसानोंकोफसलोंमेंआनेवालेरोगआदिकेबारेमेंजागरूककरउचितसलाहपरामर्शदेनाहोताहै।इसकेअलावासमय-समयपरकृषिशिविरलगाकरकिसानोंकोवैज्ञानिकखेतीकेप्रतिजागरूककरनाहोताहै।

सीटपरनहींमिलतेकृषिविकासअधिकारी-

किसानरणधीरवराजेशवरामकुमारनेबतायाकिकृषिविकासअधिकारियोंकीकमीकेकारणकईजगहोंकाप्रभारदियाहुआहै।इसलिएकुर्सीपरअधिकारीनहींमिलतेहैं।एककामकोपूराकरवानेकेलिएहफ्तोंबीतजातेहैं।नवीनतमबीज,उपचारवयोजनाओंकीजानकारीउनसेनहींमिलपातीहैं।

डिमांडभेजीहुईहै:डा.कर्मचंद

कृषिउपनिदेशककर्मचंदनेबतायाकिउच्चाधिकारियोंकोअवगतकरवायाहुआहै।काफीपदकृषिविकासअधिकारीकेखालीपड़ेहैं।फील्डकर्मचारियोंसेकामकरवायाजारहाहै।