जज मर्डरः हाई कोर्ट ने पुलिस को फटकारा, कहा- सही सवाल क्यों नहीं पूछ रहे?

मामलेकीसुनवाईकरतेहुएकोर्टनेकहाकिऑटोप्सीरिपोर्टकहतीहैकिमौत“सिरपरचोट”केकारणहुईथी,फिरपुलिसक्योंपूछरहीथीकिक्यागिरनेसेऐसीचोटेंसंभवहैं?

कोर्टनेकहा-“हमनेजांचअधिकारीविनयकुमारद्वारातैयारकीगईप्रश्नोंकाअध्ययनकियाहै…डॉकुमारशुभेंदु,सहायकप्रोफेसर…एसएनएमएमसी,धनबाद,‘कृपयाबताएंकिक्यासड़कपरगिरनेसेसिरमेंचोटलगसकतीहैयानहीं?’… जबजांचएजेंसीमौतकेकारणकापतालगानेकेलिएघटनाकीजांचकररहीहै,तोसंबंधितडॉक्टरसेऐसासवालकैसेऔरकिनपरिस्थितियोंमेंपूछाजारहाहै?वहभीतब,जबसीसीटीवीफुटेजनेघटनाकेपूरेदृश्यकोस्पष्टकरदियाहै।”मुख्यन्यायाधीशरविरंजनऔरन्यायमूर्तिसुजीतनारायणकीखंडपीठनेयहबातकही।

पुलिसकीकार्रवाईपरआगेटिप्पणीकरतेहुएकोर्टनेप्राथमिकीदर्जकरनेमेंहोरहीदेरीपरभीसवालउठाया।कोर्टनेकहाकियह“दिलचस्प”थाकिघटनाकेसीसीटीवीफुटेज“घटनाकेसमयसे2से4घंटेकेभीतरवायरल”होगएऔरन्यायाधीशआनंदकोलगभग5.30बजेअस्पताललेजायागया।प्राथमिकीभीदेरसेदर्जकीगई।वोभीपत्नीकीशिकायतकेबाद।पुलिसकोसीसीटीवीकीनियमितरूपसेनिगरानीकीजानीचाहिए।अस्पतालकेडॉक्टरोंनेभीपुलिसकोसूचितकियाहोगा

अदालतनेसीबीआईजांचकीसिफारिशपरभीगौरकियाऔरकहाकिएजेंसीद्वाराएकअधिसूचनाबुधवारतकआनेकीसंभावनाहै।

बतादेंकिधनबादकेजिलाएवंसत्रन्यायधीशउत्तमआनंदकीहत्याउससमयकरदीगईथीजबवोमॉर्निंगवॉकपरनिकलेथे।जजकोएकऑटोनेपीछेसेटक्करमारदियाथा।शुरुआतीसमयमेंयेएकएक्सीडेंटलगालेकिनसीसीटीवीफुटेजऔरपोस्टमार्टमरिपोर्टसेसाफहोनेलगाकियेदुर्घटनानहींबल्किएकप्लानमर्डरथा।

हत्याकाएंगलआनेकेबादझारखंडहाईकोर्टनेप्रशासनकोजांचकेलिएएकएसआईटीगठितकरनेकाआदेशदिया,जिसकीनिगरानीखुदकोर्टकररहाहै। इसमामलेमेंपुलिसनेअबतक243लोगोंकोहिरासतमेंलियाहैऔर17संदिग्धोंकोगिरफ्तारकियाहै।साथही2पुलिसअधिकारियोंकोभीनिलंबितकरदियागयाहै।झारखंडसीएमहेमंतसोरेननेमामलेकीजांचसीबीआईसेकरवानेकीअनुशंसाभीकरदीहै।

दिवंगतजजउत्तमआनंदकईचर्चितमामलोंकीसुनावईकररहेथे।इसमेंजिलेकाचर्चितरंजयहत्याकांडमामलाभीशामिलथा।रंजयसिंहकोधनबादकेबाहुबलीनेताऔरझरियाकेविधायकसंजीवसिंहकेकाफीकरीबीमानाजाताथा।