जम्मू-कश्मीर: गांवों के विकास के लिए जाने वाला पैसा सीधा पंचों और सरपंचों के खाते में भेजेगी सरकार

नईदिल्ली:जम्मू-कश्मीरमेंतमामविवादोंकेबीचएकअच्छीख़बरयहहैकिकेंद्रसरकारनेफ़ैसलाकियाहैकिअबवोगांवोंकेविकासकेलिएजानेवालापैसासीधापंचोंऔरसरपंचोंकेखातेमेंभेजेगी.केंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहनेकुछदिनपहलेलोकसभाऔरराज्यसभामेंयेबयानदियाथाकिजम्मू-कश्मीरप्रदेशमें40,000गांवोंकेसरपंचोंऔरपंचोंकोसीधेपैसेदिएजाएंगे.ऐसाइसलिएकियाजारहाहै,ताकिउनपैसोंसेवेगांवकेलोगोंकीजरूरतकेहिसाबसेविकासकार्यकरसकेंऔरराज्यमेंविकासकार्योंमेंव्याप्तभ्रष्टाचारकोजड़सेख़त्मकियाजासके.गृहमंत्रीअमितशाहनेअपनेकश्मीरदौरेमेंकुछपंचोंऔरसरपंचोंसेमुलाक़ातभीकीथी.

अबकेंद्रकीयोजनाकेमुताबिक़गांवोंकेविकासकेलिएदिएजानेवालापैसासीधेप्रदेशकेसरपंचोंऔरपंचोंकेखातेमेंकेन्द्रसरकारद्वारापहुंचाएजाएंगे.प्रदेशमें35,500पंचऔर4,500सरपंचहैं,जोपिछलेसालहुएपंचायतचुनावमेंनिर्वाचितहुएहैं.आपकोयहजानकरहैरानीहोगीकिकश्मीरमें1051ऐसीपंचायतेंहैं,जहांसेआतंकवादकेडरसेकोईउम्मीदवारहीखड़ानहींहुआ.ऐसेमेंइनगांवोंकाविकासपूरीतरहअफसरोंकेहाथमेंहै.मानाजारहाहैकिइसयोजनासेनसिर्फजम्मू-कश्मीरकेगांवोंकाविकासहोगाबल्किइसकाफ़ायदाआनेवालेविधानसभाचुनावमेंबीजेपीकोमिलसकताहै.

केंद्रकीयोजनामेंक्याहैख़ास

जम्मू-कश्मीरकेग्रामीणक्षेत्रोंकेविकासकेलिएकेन्द्रसरकारनेशुरुआतमें3700करोड़रुपएआवंटितकिएहैं.इसपैसेकोप्रदेशकेप्रत्येकगांवतकपहुंचायाजाएगा.कुलआवंटित3700करोड़मेंसेपहलेचरणमें700करोड़रुपएसरपंचोंतकपहुंचाएजाचुकेहैं,जबकिदूसरेचरणमें1500करोड़रुपएऔरबाक़ीके1500करोड़रुपएतीसरेऔरअंतिमचरणमेंजारीकिएजाएंगे.केंद्रसरकारकीसोचहैकिग्रामीणजनताद्वाराचुनेगएप्रतिनिधियोंकेज़रिएहीगांवोंकाविकासकियाजासके.

हालांकिप्रदेशमेंचलरहीयोजनाओंकेअंतर्गतआवंटित80,000करोड़रुपएकीजोअलग-अलगयोजनाएंजम्मू-कश्मीरमेंचलरहीहैं,वोपहलेकीतरहचलतेरहेंगे.आपकोबतादेंकिजम्मू-कश्मीरमेंकुल22ज़िलेहैंऔरप्रदेशकीकुलआबादीकरीबडेढ़करोड़है.कुलआबादीमेंसेक़रीब80लाखलोगराज्यके6,900गांवोंमेंरहतेहैं.वहींप्रदेशमेंकुल4,483पंचायतहैं.इसयोजनाकेज़रिएकेंद्रसरकारसीधेपंचोंऔरसरपंचोंतकपैसेपहुंचाकरगांवोंकेविकासकाप्रयासकररहीहै.सरकारकामाननाहैकिपैसापंचोंऔरसरपंचोंतकपहुंचेगातोवहबेहतरतरीकेसेअपनेगांवकाविकासकरसकेंगे.केंद्रसरकारकादावाहैकिआजादीकेबादपहलीबारजम्मू-कश्मीरकेगांवमेंपंचऔरसरपंचकेजरिएविकासकाखाकातैयारकियागयाहैऔरउनकोपैसेपहुंचाएजारहेहैं.

कश्मीरकेगांवोंमेंक्याहैविकासकाहाल

केंद्रकीइसयोजनाकोलेकरकश्मीरकीग्रामीणजनताऔरपंचसरपंचक्यासोचतेहैं,इसकीपड़तालकेलिएएबीपीन्यूज़कीटीमगांदरबलपहुंचीं.गांदरबलकेअरहमांगांवमेंजबलोगोंसेविकासकोलेकरसवालकियागयातोयहांकानज़ाराहीबदलगया.गांवकीमहिलाएंअपनेघरोंसेपानीलेकरदिखानेचलीआयीं.सबकीपहलीशिकायतहैकियहांपीनेकेपानीकीसबसेबड़ीसमस्याहै.घरोंमेंपानीकीसप्लाईतोहैलेकिनजोपानीऊपरपहाड़सेघरोंतकपहुंचायाजारहाहै,उसकोफिल्टरकरनेकीकोईव्यवस्थानहींहै.ऐसेमेंऊपरसेआनेवालेपानीमेंकचराऔरकीड़ेआतेहैं,जोनलकेसहारेलोगोंकेघरोंतकपहुंचरहाहै.गांवमेंपीनेकेगंदेपानीकीवजहसेनसिर्फलोगपरेशानहैंबल्किबीमारभीपड़रहेहैं.

लोगोंकाआरोपहैकिनेताओंसेशिकायतकरनेपरवोजल्दीहीदिक्कतदूरकरनेकावादाकरतेहैंलेकिनवोटलेनेकेबादकोईइनदिक्कतोंपरकोईकार्रवाईनहींकरता.पड़तालआगेबढ़ीतोपताचलाकिगांदरबलकेअरहमांगांवमेंसिर्फपानीकीहीदिक्कतनहींहैबल्किगांवमेंअस्थाईपुलकोस्थायीकियेजानेकामुद्दाबीते12सालोंसेलोगोंकेलिएएकज़रूरतबनाहुआहै.असलमेंअरहमांगांवदोहिस्सोंमेंबंटाहुआहै.गांवकेबीचमेंदूधनालाबहताहै.आधागांवपहाड़केनीचेकेहिस्सेमेंहै,बीचमेंदूधनालाहैऔरबाकीगांवकाहिस्सापहाड़केऊपरहै.ऐसेमेंऊपरवालेहिस्सेकेग्रामीणोंकोनीचेआनेकेलिएदूधनालापारकरनाहोताहै.इसनालेकेऊपरसे2007तकएकपुलबनाहुआथा,जोबारिशकेबहावमेंबहगया.नतीजायहहुआकि2007केबादग्रामीणोंनेनेताओंसेलेकरअधिकारियोंतकसेस्थायीपुलबनानेकीमांगकीलेकिनकोईसुनवाईनहींहुई.

निराशगांववालोंनेअपनेपैसेसेएकअस्थायीपुलतोबनालियालेकिनवोभीबारिशमेंअक्सरबहजाताहै.केंद्रकीयोजनाऔरविकासकार्योंकीपड़तालकेलिएएबीपीन्यूज़कीटीमआगेबढ़तेहुएबदरकुण्डगांवपहुंची.इसगांवमेंभीलोगोंमेंपिछलीसरकारोंकोलेकरकाफ़ीरोषदिखाईदिया.लोगोंकोपीनेकेपानीकीदिक्कतयहांभीहै.घरोंतकआनेवालापानीकाफ़ीगंदाहै.गंदेपानीकीशिकायतकईकईबारकरनेकेबादभीआजतककुछनहोसका.घरोंसेनिकलींमहिलाओंनेयहांभीगंदापानीदिखाया.कश्मीरीमेंअपनीबातबतातेहुएमहिलाओंनेकहाकिपानीकीदिक्कतकेअलावाइसगांवमेंसड़कटूटीहै.साथहीअस्पतालकीदिक्कतभीयहांकीएकप्रमुखसमस्याहै.लोगोंनेआरोपलगायाकिगांवमेंप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रतोबनायागयाहैलेकिनउसमेंडॉक्टरहीनहींहै.लोगोंनेकहाकिअस्पतालमेंसमस्याहोनेकीवजहसेउन्हेंगांदरबलजानापड़ताहै.लोगोंकाआरोपहैकिसड़कख़राबहोनेकीवजहसेकईमहिलाओंकीडिलीवरीरास्तेमेंहीहोगई.साथहीअस्पतालकीदूरीकीवजहसेग्रामीणोंकोबहुतसीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै.

केंद्रकीयोजनापरक्यासोचतेहैंकश्मीरीपंचऔरसरपंच

जम्मू-कश्मीरपंचायतीराजमूवमेंटकेप्रदेशअध्यक्षगुलामहसनपुंज़ूनेकहाकिज़मीनीस्तरपरभ्रष्टाचारकीवजहसेअबतकविकासनहींहोपायाहै,लेकिनअबउम्मीदहैइसयोजनासेविकासहोगा.पुंज़ूनेकहाकिइसमेंसबसेबड़ीदिक्कतयहहैकिग्रामीणस्तरपरयोजनाओंकाक्रियान्वयनकरानेकाज़िम्माउठानेवालेपंचायतसमितिकेसदस्योंकोमेहनतानेकेतौरपरसिर्फएकहज़ाररुपयेमहीनेकेदियेजातेहैं.ऐसेमेंवोसरकारसेमांगकरतेहैंकिअगरपंचायतस्तरकेप्रतिनिधियोंकोमेहनतानाबेहतरदियाजाएगातोवोज़मीनीस्तरपरभ्रष्टाचारनहींकरेंगे.उन्होंनेकहाकिसरकारसरपंचोंकोकमसेकम10हज़ाररुपयेमहीनाऔरपंचायतसदस्योंयानीपंचोंको5हज़ाररुपयेमहीनादेनेकाकामकरेतोवोसरकारीपैसेकीचोरीनहींकरेंगेऔरयोजनाओंकालाभलोगोंतकपहुँचेगा.

बीजेपीकोफ़ायदेकेसवालपरकहाकिअगरधार्मिकआधारपरबीजेपीआगेबढ़ेगीतबउसेकोईफ़ायदाकश्मीरमेंनहींहोनेवालालेकिनअगरएकराजनैतिकपार्टीकेतौरपरवोलोकतांत्रिकतरीक़ेसेविकासकोआगेबढ़ाएतोआनेवालेवक़्तमेंउसेफ़ायदाहोसकताहै.केंद्रसरकारकीयोजनाकेमुताबिक़अबविकासकार्योंकेलिएपैसेसीधेपंचोंऔरसरपंचोंकोदिएजानेकोलेकरजबटीमनेअरहमांगांवसरपंचअब्दुलरशीदसेबातकीतोउन्होंनेकेंद्रकेइसफ़ैसलेकास्वागतकिया.उन्होंनेकहाकिकईऐसेकामजोवोगांवमेंकरानाचाहतेथे,उसमेंदिक्कतेंआरहीथीं,अबउन्हेंउम्मीदहैकिग्रामीणोंकीसलाहऔरज़रूरतकेमुताबिक़योजनाबनाकरविकासकेकार्योंकोआगेबढ़ापाएंगे.

गांवकेपंचमुश्ताक़अहमदभीकेंद्रकेइसफ़ैसलेकास्वागतकरतेहुएउम्मीदजतातेहैंकिइसयोजनासेगांवोंकाविकासज़्यादाअच्छेसेहोसकेगा.अब्दुलरशीदऔरमुश्ताक़दोनोंकामाननाहैकिअगरकेंद्रकीयोजनासहीतरीक़ेसेकामकरनेलगीतोघाटीमेंबीजेपीकोइससेफ़ायदाहोसकताहै.गांदरबलकेबदरकुण्डगांवकेसरपंचज़हूरअहमदनेबतायाकिउन्हेंकेंद्रकीयोजनामेंपहलीकिश्तमिलगईहै.पहलीकिश्तमें11लाख25हज़ाररुपयेआयेहैं.सरपंचकाकहनाहैकिवोग्रामीणोंसेसुझावकेआधारपरगांवकेविकासकाकामकरेंगे.इनकामाननाहैकिअगरकेंद्रकीसीधेपंचोंऔरसरपंचोंकोपैसेदेनेकीयोजनानेसहीसेकामकियातोज़ाहिरतौरपरबीजेपीकोआनेवालेविधानसभाचुनावमेंमिलसकताहै.

अधिकारियोंकोभीकेंद्रकीयोजनाकेसकारात्मकप्रभावकीउम्मीद

गांदरबलकीसमाजकल्याणअधिकारीबुरीदामज़ीदनेकहाकिपंचऔरसरपंचोंकोज़मीनकीज़रूरतोंकापताहोताहै.साथहीगांवोंमेंकौनज़रूरतमंदहै,इससेभीपंचऔरसरपंचअच्छेसेवाकिफ़हैं,ऐसेमेंयेबेहतरहोगाकिउनकीसलाहकेमुताबिक़योजनापरकामकरेंगेऔरगांवोंकाविकासकरपाएंगे.उन्होंनेकहाकिसड़कपानीस्कूलजैसीसमस्याओंकेसाथसरकारकीयोजनाकालाभइसयोजनाकेमुताबिक़आसानीसेहोसकताहै.भ्रष्टाचारकोलेकरभीबुरीदामज़ीदकामाननाहैकियेसमस्याज़मीनीस्तरपरदूरहोगी,ऐसीउम्मीदहै.उन्होंनेकहाकिअक्सरयहशिकायतआतीथीकिज़रूरतमंदकोफ़ायदानमिलकरजुगाड़वालेलोगोंकोफ़ायदामिलजाताथा.ऐसेमेंउम्मीदकीजासकतीहैकिअबयेदिक्कतभीदूरहोजाएगी.