जर्जर स्कूलों में नौनिहालों की जान जोखिम में डाल रहा शिक्षा विभाग

जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:बेसिकशिक्षाविभागकेअधिकारियोंकीलापरवाहीकाखामियाजाकहींनौनिहालोंकोनाभुगतनापड़जाए।करीबनौमाहपहलेविभागनेनिर्देशदिएथेकिजर्जरविद्यालयोंमेंबच्चोंकीकक्षाएंनहींचलेंगी।मगरइसपरकोईध्याननहींदियाजारहाहै।अभीभीकईजर्जरविद्यालयोंमेंकक्षाएंचलरहीहैं।जून2021मेंबेसिकशिक्षाविभागनेआदेशदिएथेकिजो-जोविद्यालयजर्जरभवनमेंचलरहेहैं,वहांकेबच्चोंकीकक्षाएंपासकेविद्यालयमेंचलाईजाएं।मगरइसओरकोईध्यानहींदियाजारहाहै।

प्राथमिकविद्यालयरेलवेस्टेशनसालोंसेजर्जरभवनमेंचलरहाहै।विद्यालयकाटिनशेडभीजर्जरहै।छतेंवदीवारेंजगह-जगहसेचटकीहैं।शौचालयवरसोईघरभीनहींहै।पासमेंहीडेयरीहै,जिसकेगोबरसेउठतीदुर्गंधसेबच्चेपरेशानहोतेहैं।बरसातमेंगोबरस्कूलमेंआजाताहै।प्रभारीप्रधानाध्यापकदीपकशर्मानेबतायाकिउपजिलाधिकारीसेलेकरजिलाबेसिकशिक्षाधिकारीकोकईबारअवगतकराचुकेहैं,लेकिनकोईध्याननहींदियाजारहाहै।स्कूलमें59बच्चेपंजीकृतहैं।

कंपोजिटप्राथमिकविद्यालयतलैयाफजलइमामकामुख्यगेटतकचटकाहै।एककच्चाकमराहै,जिसमेंखाद्यान्न,खेलकूदआदिसामग्रीरखीजातीहै।टिनशेडकेनीचेबैठकरबच्चेपढ़नेकोमजबूरहैं।बरसातमेंकाफीदिक्कतहोतीहै।प्रधानाध्यापिकापुष्पाराजनेबतायाकिबीतेदिनोंस्कूलकीमरम्मतकेलिए25हजारकाबजटमिलाथा,जोबहुतकमथा।बजटकोवापसकरदियागया।स्कूलमें80बच्चेपढ़तेहैं।

ब्लाकनवाबगंजकेप्राथमिकविद्यालयरायपुरकेजर्जरभवनमेंमंगलवारकोबैठेबच्चेभोजनकररहेथे।प्रधानाध्यापकविनोदकुमारनेबतायाकिजर्जरभवनकेमलबेकोनीलामकरानेकीसूचनाविभागकोभेजीगईथी।विद्यालयमें114बच्चेपंजीकृतहैं।प्राथमिकविद्यालयबेगकेप्रधानाध्यापकसंजयकुमारनेबतायाकिविद्यालयमें109बच्चेपंजीकृतहै।विद्यालयभवनजर्जरहोनेसेबच्चोंकोअतिरिक्तकक्षाकक्षोंमेंबैठायाजाताहै।

'जनपदमें106भवनजर्जरहैं।शिक्षकोंकोनिर्देशितकियाजाचुकाहैकिबच्चोंकीपासकेस्कूलमेंकक्षाएंलगाएं।अगरकक्षाएंनहींलगरहीहैंतोवहइसेदिखवाएंगे।नौनिहालोंकीजानकेसाथकोईखिलवाड़नहींहोनेदियाजाएगा।जर्जरस्कूलोंमेंकायाकल्पकेतहतनिर्माणकार्यकरवायाजाएगा।'

-लालजीयादव,जिलाबेसिकशिक्षाधिकारी

जनपदकेजर्जरस्कूल

ब्लाक-जर्जरस्कूलोंकीसंख्या

फर्रुखाबादनगर-चार