किसानों के भूखंड एक माह में विकसित करने की मांग

जागरणसंवाददाता,हापुड़

भारतीयकिसानयूनियन(भानु)केकार्यकर्ताओंऔरपदाधिकारियोंकीगांवश्यामनगरमेंबैठकआयोजितकीगई।बैठकमेंहापुड़-पिलखुवाविकासप्राधिकरणकेअधिकारियोंसेएकमहीनेमेंकिसानोंकोआवंटितहोनेवालेभूखंडोंकोविकसितकरनेकीमांगकीगई।चेतावनीदीगईकियदिउनकीमांगनिर्धारितसमयसीमामेंपूरीनहींहुईतोआंदोलनकियाजाएगा।

भाकियू(भानू)केनगरअध्यक्षराजवीर¨सहभाटीनेकहाकिआठवर्षपूर्वकिसानोंकोछहप्रतिशतभूखंडविकसितकरदेनेकाप्रस्तावकियागयाथा।लंबेइंतजारकेबादलकीड्रानिकालकरकिसानोंको31अक्टूबरतकविकासशुल्कजमाकरनेकासमयदियागया।किसानोंनेकर्जलेकरविकासशुल्कजमाकरदिया,लेकिनअभीतकभीकिसानोंकोदिएजानेवालेभूखंडविकसितनहींकिएगएहैं।प्राधिकरणकीइसलापरवाहीकेप्रतिकिसानोंमेंरोषहै।किसानपप्पीचौधरीनेकहाकिप्राधिकरणनेकिसानोंसेअलग-अलगविकासशुल्कवसूलनेकाप्रयासकियाहै,जिसेस्वीकारनहींकियाजाएगा।यदिएकमहीनेमेंभूखंडोंकोविकसितनहींकियागयातोभाकियूआंदोलनकरनेकोविवशहोगी।महेशचंदत्यागीनेकहाकिचिन्हितभूमिकोएकमाहमेंविकसितकियाजाए।

इसमौकेपरमहेशचंदत्यागी,ओमप्रकाशत्यागी,जयवीर,¨प्रस,राकेश,रामचंद्र,राजेंद्र,मनोज,टेकचंद,रूपचंद,ब्रह्मपाल,सतपाल,रामपाल,प्यारेलाल,माहू,गंगाशरण,राजवीर,राम¨सहआदिमौजूदरहे।