कोरोना की जांच न इलाज, अफसरों के दावे से अलग है गांवों की सच्चाई

जासं,गाजियाबाद:गांवोंमेंकोरोनाकाप्रवेशहोचुकाहै।मरीजोंकीसंख्याबढ़रहीहै।इसपरकाबूपानेकेलिएअधिकारियोंनेकईदावेकिएहैं,लेकिनहकीकतइनदावोंसेअलगहै।जिम्मेदारोंनेअपनीजिम्मेदारीभीप्रधानोंपरथोपदीहैऔरखुदआरामफरमारहेहैं।यहीवजहहैकिकोरोनाकीजांचऔरइलाजकरानेकेलिएभीग्रामीणोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।गंभीरबीमारमरीजकोउपचारकेलिएबेडनमिलनेपरदिल्लीसेलेकरहरियाणातकचक्करकाटनेपड़तेहैं।

मसौतागांवकाहाल:हापुड़सेसटेरजापुरब्लाककेमसौतागांवकीआबादीदोहजारकेकरीबहै।यहांपरपिछलेएकमाहमें35लोगोंमेंकोरोनाकेलक्षणनजरआए।इसगांवमेंनतोप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रहैनहीजांचऔरइलाजकीसुविधा।ऐसेमेंलोगोंनेअपंजीकृतचिकित्सकसेदवाईली।20लोगस्वस्थहोगएहैंलेकिन15लोगअबभीकोरोनाकामुकाबलाकररहेहैं।आरोपहैकिगांवमेंएकभीदिनकोरोनाकीजांचकेलिएशिविरनहींलगवायागयाहै।सफाईऔरसैनिटाइजेशनमेंभीलापरवाहीबरतीजारहीहै।ऐसेमेंग्रामीणोंकोकोरोनाकेफैलनेकाखतरामहसूसहोरहाहै।कोरोनारोधीटीकालगवानेकेलिएग्रामीणोंको15किलोमीटरदूरडासनास्थितसीएचसीमेंजानापड़ताहै।वहांकभीटीकालगपाताहैकभीनहीं।

इनायतपुरगांवकाहाल:इनायतपुरगांवमेंकरीब2,500कीआबादीहै।ग्रामीणोंकेमुताबिक,पिछलेएकमाहमेंएकमहिलासहितदोलोगकोरोनासंक्रमणकीचपेटमेंआकरअपनीजानगंवाचुकेहैं।इसकेबावजूदअधिकारियोंनेगांवकेलोगोंकीखबरनहींली।गांवमेंवर्तमानमेंछह-सातलोगोंमेंकोरोनाकेलक्षणहैंऔरवेघरपरहीउपचारकरवारहेहैं।उपचारकेलिएमेडिकलकिटलोगोंकोमिलरहीहैलेकिनकोरोनाकीजांचनहींकरवाईजारहीहै।इसगांवमेंभीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रनहींबनाहै।गांवमेंअपंजीकृतचिकित्सकभीनहींहै।ऐसेमेंइलाजऔरजांचकेलिएछहकिलोमीटरदूरडासनास्थितसीएचसीमेंजानापड़ताहै।परिचर्चाजिलाप्रशासननेग्रामीणोंकोजागरुककरनेकीजिम्मेदारीप्रधानोंकोसौंपीहैलेकिनगांवोंमेंजांचऔरइलाजकीव्यवस्थानहींकीहै।अबतकसैनिटाइजेशनभीनहींकरवायागयाहै।ऐसेमेंग्रामीणोंकोपरेशानीहोरहीहै।गांवमेहीजांचऔरटीकालगवानेकीव्यवस्थाहोनीचाहिए।

-कृष्णादेवी,प्रधान,मसौता

कोरोनाकीचपेटमेंमेराबेटाललितनागरभीआगयाथा।गाजियाबादमेंबेडभीनहींमिला,उपचारकेलिएबेटेकोपहलेपानीपतलेगएथे।13दिनवहांपरइलाजकेबादफिरगाजियाबादलेकरआए,यहांइलाजकेदौरानललितकीमौतहोगई।उसनेहालहीमेंबीडीसीकाचुनावभीजीताथा।बीमारीकेकारणवहप्रमाणपत्रभीनहींलेसकाथा।गांवकीएकमहिलाकीभीकोरोनाकीचपेटमेंआकरमौतहोचुकीहै।

-मास्टरमनोजनागर,इनायतपुरगांवबयान

गांवोंमेंमरीजोंकोजरूरीसुविधाएंमुहैयाकरवाईजारहीहैं।मेडिकलकिटदीजारहीहै।सैनिटाइजेशनकरवायाजारहाहै,कहींलापरवाहीहोरहीहोतोमामलेकीजानकारीकीजाएगी।

-भालचंद्रत्रिपाठी,जिलाविकासअधिकारी।