लीड.. पुलिस के डर से फरार हुए उत्पाद अधीक्षक

सहरसा।शराबतस्करोंकीमददकरनेकेमामलेमेंबुरीतरहउत्पादविभागफंसगयाहै।उत्पादअधीक्षकसहितइंस्पेक्टरमो.फैयाजअहमद,एएसआईवीरेन्द्रकुमारपाठककेविरूद्धसदरथानामेंथानाध्यक्षराजमणिकेआवेदनपरनामजदप्राथमिकीदर्जकियागयाहै।

मंगलवारकीमध्यरात्रिहीएसडीपीओप्रभाकरतिवारीकेनेतृत्वमेंसदरथानाध्यक्षराजमणिसहितआरक्षीमिथिलेशसिंहआदिनेउसकेघरपरछापामारकरइंस्पेक्टरवएएसआईकोगिरफ्तारकिया।दोनोंगिरफ्तारअभियुक्तोंकोन्यायिकहिरासतमेंभेजदियागयाहै।लेकिनइसकांडकेमुख्यसूत्रधारउत्पादअधीक्षकमो.अशरफजमालअबतकफरारबताएजातेहैं।

एसपीराकेशकुमारनेपत्रकारोंकोबतायाकि13अक्टूबर19कोगुप्तसूचनाकेआधारपरडुमरैलचौककेपाससेचाहरदीवारीकेअंदरट्रकसंख्यायूपी-78एटी-9177सेभारीमात्रामेंहरियाणानिर्मितविदेशीशराब5572बोतलबरामदहुआथा।जिससंदर्भमेंउत्पादविभागकेसहायकअवरनिरीक्षकवीरेन्द्रकुमारपाठककेलिखितआवेदनपरउत्पादविभागमेंवादसंख्या506/19दर्जकियागयाथा।

जिसमेंप्राथमिकीअभियुक्त1.अभिनवआनंदउर्फगोविन्दसिंहपिता-नथेन्द्रप्रसादसिंह,विद्यापतिनगरवार्डनंबर19सहरसा,2.रमेशसाहपितारामविलाससाहउर्फविलाससाह,सिमराहा,वार्डनंबर35,भवीसाहचौकजिलासहरसा,3.वाहनमालिकरामेश्वरपिताभूदेवसिंह,गृहनंबर50,जेबडानवाबगंज,जिलाकानपुरउत्तरप्रदेश,4.विभीषणमेहतापिताशत्रुध्नमेहता,कमलपुरवार्डनंबर2,घैलाढ,जिलामधेपुराएवंअन्यकेविरूद्धदर्जकिया।इसीमामलेमेंबरामदकिएगएविदेशीशराबकोलेकरउत्पादअधीक्षकमो.अशरफजमालएवंउत्पादनिरीक्षकमो.फैयाजअहमदकेविरूद्धशराबकारोबारमेंसंलिप्तव्यक्तियोंकोबचानेहेतुरिश्वतलेनेआदिकाआरोपलगातेहुएपांचबिन्दुओंपरविभागनेहीइसकीजांचशुरूकीथी।विभागीयजांचमेंइसबातकाखुलासाहुआकिदर्जकांडमेंजब्तकिएगएवाहनकेचालककोप्राथमिकीअभियुक्तनहींबनायागयाहै।वहींशराबकेसाथबरामदट्रककानिबंधनसंख्यायूपी-78एटी-9175कोजब्तदिखायागयाहै।जांचकेदौरानइसमामलेमेंउत्पादअधीक्षकनेजांचअधिकारीकोबतायाकिट्रककानंबरप्लेटहिन्दीमेंअंकितरहनेकीवजहसेप्रेसविज्ञप्तिकेसमयनिबंधनसंख्या-यूपी78एटी-9175केस्थानपरगलतीसेट्रकसंख्या-यूपी-78एटी-9177-9172होनेकीबातबतायीगयी।वहींतीसरेबिन्दुमेंछापामारी13अक्टूबर19कोकीगयी।14अक्टूबर19कोसीजरलिस्टबनायागयाऔरप्राथमिकीतीनदिनबाद16अक्टूबर19कोदर्जकीगयी।जबकिनियमानुसारजब्तीके24घंटेकेअंदरहीप्राथमिकीदर्जकरनीथी।विलंबसेप्राथमिकीदर्जकरनेपरन्यायिकहिरासतमेंभेजनेपरअभियुक्तोंकोविलंबसेभेजनेपरछोड़दियागया।इसमामलेमेंलापरवाहीउजागरहुई।वहींचौथेबिन्दुमेंनामजदअभियुक्तविभीषणमेहताको14अक्टूबरकोगिरफ्तारकियागयाऔरउसे16अक्टूबरकोन्यायालयमेंउपस्थापनकियागया।पांचवेबिन्दुकीजांचमेंशराबबरामदगीकेपश्चातआरकेसिंहकेबाउंड्रीयुक्तपरिसरजोजांचकेक्रममेंआरकेसिंहद्वाराडा.आईडीसिंहकोकेवालाकरदिएजानेकीबातसामनेआरहीहैकोसीलबंदकियागयाथा।जांचकेक्रममेंयहबातप्रकाशमेंआयीकिउत्पादअधीक्षकमो.अशरफजमालकीअनुशंसाउपरांतजिलाधिकारीकेआदेशानुसारघटनाकेकुछदिनबादहीउक्तस्थानकोसीलबंदसेमुक्तकरदियागयाहै।इसीपांचबिन्दुओंपरकीगयीजांचपड़तालमेंयहबातसामनेआयीकिउत्पादअधीक्षकसहितउत्पादनिरीक्षकवएएसआईवअन्यकईउत्पादकर्मियोंकीसंलिप्तताशराबतस्करोंकीमददकरअपनेपदकागलतइस्तेमालकिया।शराबतस्करोंकोलाभपहुंचानेमेंसंलिप्ततासामनेआनेकेबादपुलिसअधीक्षकराकेशकुमारकेनिर्देशपरउत्पादअधिकारियोंकेविरूद्धकार्रवाईशुरूकरदीगयीहै।जिसमेंदोकीगिरफ्तारीहुईऔरउसेजेलभेजागयाहै।वहींउत्पादअधीक्षकमो.अशरफजमालकीगिरफ्तारीकेलिएपुलिसउसकीतलाशशुरूकरदीहै।