लिपिक के आत्मदाह प्रयास पर जेल प्रशासन खामोश

फैजाबाद:डीआइजीजेलकार्यालयकेवरिष्ठलिपिकज्यूतरामकेआत्मदाहप्रयासकोलेकरस्थानीयजेलप्रशासनखामोशहै।लिपिकआत्मदाहकरपाताइससेपहलेसुरक्षाकर्मियोंनेउसेपकड़लिया।देरशामघटनाकीभनकलगनेकेबादइसेलेकरजेलमेंहलचलरही,लेकिनकोईअधिकारीवकर्मीखुलकरनहींबोले।ज्यूतरामकाआवासजेलपरिसरमेंहोनेकीवजहसेसुरक्षाकारणोंकाहवालादेकरजेलअधिकारियोंनेमुलाकातमेंभीअसमर्थताजाहिरकी।लिपिककीओरसेउठाएगएइसकदमकेपीछेकईसालोंसेलंबितचलरहीएकजांचकोकारणमानाजारहाहै।येजांचवर्ष2012-13कीबताईजारहीहै।जेलकेएकवरिष्ठअधिकारीकाकहनाहैकिज्यूतरामदेवबंदमेंतैनातथा,उसीदौरानजेलकीसुरक्षाकोप्रभावितकरनेकाआरोपलगायाथा।इसेलेकरलिपिककेखिलाफजांचचलरहीहै।सूत्रोंकीमानेतोजांचकानिस्तारणनहोनेसेवहपरेशानरहनेलगा।मूलरूपसेबलियाकेरहनेवालेलिपिककापरिवारजेललाइनमेंहीरहताहै।जेलरेंजगठितहोनेकेबादउसेडीआइजीकार्यालयसेसंबंधकियागयाहै।जेलरडॉ.विनयकुमारकाकहनाहैकिमंगलवारकीसुबहतकज्यूतरामकोफैजाबादकारागारमेंदेखागयाथा।जेलअधीक्षकबृजेशकुमारकाकहनाहैकिउन्हेंभीसूचनामिलीहै।लिपिकनेआत्मदाहकाप्रयासक्योंकियाइसकेपीछेकारणस्पष्टनहींहै।किसीजांचकेनिस्तारितनहोनेकीएकअपुष्टबातसामनेआरहीहै।