लखनऊ नगर क्षेत्र के 22 परिषदीय विद्यालयों में नहीं शिक्षक, बुलाए गए बच्चे तो कैसे चलेंगी कक्षाएं

लखनऊ[सौरभशुक्ला]।शासनकीओरसेजहां15अक्टूबरकोमाध्यमिकविद्यालयोंमेंशिक्षणकार्यशुरूकरनेकेलिएबच्चोंकोबुलाएजानेकीतैयारीकीजारहीहै।वहीं,राजधानीकेनगरक्षेत्रस्थितपरिषदीयविद्यालयोंमेंशिक्षकोंकीबड़ीसंख्यामेंकमीहै।ऐसेमेंअगरपरिषदीयविद्यालयोंमेंभीसीनियरक्लासकेबच्चोंकोबुलायाजाताहैतोउनकीकक्षाएंकैसेचलेंगी,कैसेमानककेअनुरूपउनकाकोर्सपूराहोगाऔरभविष्यकैसेसुधरेगा।यहएकबड़ासवालहै।

नगरक्षेत्रमेंआलमयहहैकियहांजोनएक-दो,तीनऔरचारमेंकरीब254विद्यालयहैं।जिसमें22विद्यालयोंमेंएकभीशिक्षकनहींहैं,जबकि69विद्यालयोंमेंएकलशिक्षक(पूरेविद्यालयमेंएकशिक्षक)कीव्यवस्थाहै।कईऐसेविद्यालयजहांशिक्षकनहींहैंवहांदूसरेविद्यालयकेशिक्षामित्रभेजेजातेहैं।

इनप्राथमिकविद्यालयोंमेंनहींशिक्षक

एकलशिक्षकव्यवस्था

-जोनएकके20विद्यालयोंमें।

-जोनदोके19विद्यालयोंमें।

-जोनतीनके20विद्यालयोंमें।

-जोनचारके10विद्यालयोंमें।

कईविद्यालयोंकेबच्चोंकोदूसरेमेंभेजेजानेकीव्यवस्था

शिक्षकोंकीकमीकेकारणप्राथमिकविद्यालयपिपराघाटकेबच्चेकैबिनेटगंजप्राथमिकविद्यालयभेजेजानेकीव्यवस्थाकीगईहै।इसकेअलावादुबग्गासमेतकईइलाकोंमेंऐसेविद्यालयहैंजिनकेबच्चेदूसरेविद्यालयजाएंगे।

क्याकहतेहैंबीएसए?

बीएसएदिनेशकुमारकेमुताबिक,नगरक्षेत्रमेंशिक्षकोंकीकमीहै।यहांसीधेपोस्टिंगकाकोईप्राविधाननहींहै।यहशासनकीव्यवस्थाहै।जहां,शिक्षकनहींहैंवहांपरअन्यविद्यालयोंकोशिक्षकोंकोभेजकरविद्यालयखोलेजारहेहैं।

क्याकहतेहैंउत्तरप्रदेशशिक्षाधिकारीप्रदेशअध्यक्ष?

उत्तरप्रदेशशिक्षाधिकारीप्रदेशअध्यक्षखंडप्रवीणशुक्लाकेमुताबिक,जबशिक्षकोंकीभर्तीबेसिकशिक्षापरिषदद्वाराकीजातीहैतोऐसेमेंनगरऔरग्रामीणकाकैडरअलग-अलगनहोकरशासनकोउसेएककरदेनाचाहिए।इससेयहहोगाकिजहांजितनेस्वीकृतपदहैंवहांपरउसीकेअनुसारतैनातीकरदीजाएगी।दोनोंकीअगल-अगलभर्तीनहींकरनीपड़ेगी।

क्याबोलेप्रशिक्षितस्नातकएसोसिएशनकेप्रांतीयअध्यक्ष?

प्रशिक्षितस्नातकएसोसिएशनकेप्रांतीयअध्यक्षप्राथमिकशिक्षकविनयकुमारसिंहनेबतायाकि45फीसदविद्यालयऐसेहैंजहांयातोशिक्षकनहींहैंयाफिरएकलशिक्षककीव्यवस्थाहै।शासनकोनगरक्षेत्रकीसेवानियमावलीमेंसंशोधनकरतेहुएबिनाज्येष्ठाखोयेग्रामीणक्षेत्रोंकेशिक्षकोंनगरक्षेत्रमेंसमायोजितकरनाचाहिए।इसकेअलावाकरीब11सालसेभर्तीभीनहींहुई।