मरीजों को राहत

--------------चारऔरजिलाअस्पतालोंमेंजांचकरवानेकाफैसलासहीकदमहै,अबमरीजोंकोखूनकीजांचरिपोर्टकेलिएछह-छहदिनोंतकप्रतीक्षानहींकरनीपड़ेगी-------------जम्मूसंभागमेंलगातारबढ़रहेडेंगूकेमरीजोंकीजांचकेलिएचारऔरजिलाअस्पतालोंमेंजांचकरवानेकाफैसलासहीहै।नि:संदेहइससेसरकारीअस्पतालोंमेंइलाजकेलिएजारहेमरीजोंकोराहतमिलेगीऔरउन्हेंजांचरिपोर्टकेलिएछह-छहदिनोंतकप्रतीक्षानहींकरनीपड़ेगी।इससमयडेंगूकोलेकरजोस्थितिहै,वहकिसीसेछिपीनहींहै।सरकारीअस्पतालोंमेंअभीभीदोसौसेअधिकमरीजोंकेसैंपलजांचकेलिएप्रतीक्षामेंहैं,जबकिआएदिनसैकड़ोंसंदिग्धमरीजजांचकरवानेकेलिएसरकारीऔरनिजीअस्पतालोंमेंपहुंचरहेहैं।सरकारीआंकड़ोंमेंबेशकइससमयडेंगूपीडि़तोंकीसंख्या287हीहोलेकिनहकीकतपूरीव्यवस्थाकोहिलानेवालीहै।इससमयजम्मूसंभागविशेषजम्मू,कठुआऔरसांबाजिलोंमेंहजारोंकीसंख्यामेंलोगडेंगूसेपीडि़तहैंजोकिनिजीप्रयोगशालाओंमेंजांचकरवानेकेबादअपनाइलाजभीराज्यकेबाहरनिजीअस्पतालोंमेंकरवारहेहैं।होनातोयहचाहिएथाकिडेंगूकीआशंकाकेचलतेस्वास्थ्यविभागऔरजम्मूनगरनिगमपहलेसेहीपर्याप्तप्रबंधकरतालेकिनदोनोंनेहीस्थितिकोहल्केमेंलिया।कुछदिनोंमेंजबहरओरसेमरीजोंकीसंख्याबढऩेलगीतोपूराप्रशासनहरकतमेंआया।स्वास्थ्यमंत्रीकेसाथ-साथप्रशासनिकअधिकारियोंनेभीजमीनीस्तरपरप्रबंधोंकाजायजालेनाशुरूकिया।लोगोंमेंदहशतनफैलेइसकेलिएस्वास्थ्यविभागकोचाहिएकिवेजम्मूसंभागकेसभीसरकारीजिलाअस्पतालोंमेंडेंगूकेमरीजोंकीजांचकीसुविधामुहैयाकरवाए।यहीनहीं,ठंडकाआगाजहोतेहीस्वाइनफ्लूकेफैलनेकीभीआशंकाबनीरहतीहै।इसमौसममेंहीअभीतकइसबीमारीसेतीनमरीजोंकीमौतहोचुकीहै।यहबीमारीडेंगूसेभीअधिकखतरनाकहैऔरएकपीडि़तसेदूसरेमेंफैलनेकीआशंकारहतीहै।इसकेलिएभीअभीसेहीपुख्ताप्रबंधकिएजाएं।स्वाइनफ्लूकीजम्मूमेंजांचभीनहींहोतीहै।इसेदेखतेहुएजागरूकताअभियानतेजीसेचलाएजाएं।लोगोंकाभीदायित्वबनताहैकिवेअपनेआसपासकेक्षेत्रोंमेंसफाईबनाएरखेंऔरकहींपरभीपानीजमानहोनेदें।इससेभीमच्छरपनपताहैऔरकईबीमारियोंकोजन्ममिलताहै।

[स्थानीयसंपादकीय:जम्मू-कश्मीर ]