पहली कक्षा : पहले दिन दो वर्ग में अलग-अलग विषयों को पढ़ाया

1अक्टूबर1994मेंसहायकशिक्षककेरूपमेंमहाराजगंजप्रखंडकेउसरीमध्यविद्यालयमेंयोगदानकिया।पहलेदिनकक्षाछहमेंगणितपढ़ानेकोमिला।बच्चोंसेपहलेपरिचयहुआ।इसकेबादपहलेतोबच्चोंनेटेस्टलेनेकेलिएकईसवालपूछउलझाएलेकिनमैंनेउन्हेंसहजतासेसभीप्रश्नोंकोउत्तरदेकरसंतुष्टकियाऔरबच्चेफिरघुलमिलगए।इसकेबादवर्गसातमेंबच्चोंकोविज्ञानपढ़ानेकोमिला।इसकेसाथहीबच्चोंकोपढ़नेकेतरीकेएवंअनुशासनकापाठपढ़ायाजिससेबच्चेकाफीखुशनजरआए।उसकेबादमैं1नवंबर2013मेंगोरेयाकोठीप्रखंडकेराजकीयमध्यविद्यालयकर्णपुरामेंप्रधानाध्यापककेरूपमेंयोगदानकियाऔरतबसेगणित,¨हदीऔरविज्ञानविषयहीपढ़ाताहूं।

ओमकिशोरराय,प्रधानाध्यापक

राजकीयमध्यविद्यालय,कर्णपुरा,गोरेयाकोठी(सिवान)