पिछले 15 साल में असम के मानव विकास में सुधार

गुवाहाटी,तीनअक्तूबर::असममेंमानवविकासकेमामलेमेंसततसुधारदेखनेकोमिलाहैऔरएकरिपोर्टकेमुताबिकउसकामानवविकाससूचकांक:एचडीआई:0.557आंकागयाहैजबकिराष्ट्रीयऔसत0.586है।मुख्यमंत्रीसर्वानंदसोनोवालनेयहांरिपोर्टअसमह्यूमनडवलपमेंटरिपोर्ट2014:मैनेजिंगडायवर्सिटीज,अचीविंगह्यूमनडवलपमेंटकोजारीकिया।रिपोर्टकेअनुसार,देखागयाहैकिराज्यमेंमानवविकासकेसंपूर्णस्तरमेंपिछले15सालमेंसततऔरक्रमिकसुधारहुआहै।इसबातपरगौरकियाजासकताहैकिरिपोर्टमेंजिसअवधिकाअध्ययनहै,उससमयकांग्रेसकीसरकारथीऔरमुख्यमंत्रीतरणगोगोईथे।अध्ययनमेंपताचलाहैकिराज्यमें56.4प्रतिशतलोगकुशलताकेअत्यंतमहत्वपूर्णमानदंडकेतहतमामूलीरूपसेयापूरीतरहसंतुष्टथे।रिपोर्टमें2014मेंअसमकामानवविकाससूचकंाक0.557आंकागयाहैजो2003मेंइसतरहकीपहलीरिपोर्टकेप्रकाशनकेसमय0.407था।2014मेंवैश्विकएचडीआरकेअनुसारभारतकामानवविकाससूचकांक0.586बतायागयाहै।असमपरजारीइसविस्तृतरिपोर्टकेमुताबिक,यहभीदेखाजासकताहैकिमानवविकासकेसभीमहत्वपूर्णआयामोंमसलनशिक्षा,स्वास्थ्यऔरआयमेंउपलब्धियांआधेरास्तेमेंहैं।असमएचडीआर2014मेंरोजगारकेपरिदृश्यपरचिंताजतातेहुएकहागयाहैकि15-59सालकेआयुवर्गकेलोगोंमेंपूर्णबेरोजगारीकीदर13.4प्रतिशतरही।रिपोर्टकोअसमसरकारकीओरसेओकेडीइंस्टीट्यूटऑफसोशलचेंजएंडडवलपमेंटतथाइंस्टीट्यूटफॉरह्यूमनडवलपमेंटनेतैयारकियाहैजिसमेंसंयुक्तराष्ट्रविकासकार्यक्रम:यूएनडीपी:नेमददकीहै।सर्वेक्षणमेंअसमकेसभीजिलोंमें39,998परिवारोंकोलियागयाऔर1.89लाखलोगोंकोशामिलकियागया।रिपोर्टमेंदावाकियागयाहैकिनमूनाआकारअसममेंराष्ट्रीयनमूनासर्वेक्षणसंगठन:एनएसएसओ:केसामान्यचरणोंसेकरीब10गुनाअधिकहैऔरराष्ट्रीयपरिवारस्वास्थ्यसर्वेक्षणकेनमूनोंसेआठगुनाअधिकहै।