पिटकुल में करोड़ों के ट्रांसफार्मर घोटाले की जांच ठंडे बस्ते में, सुराज सेवा दल ने घोटाले की पुष्टि का दिया हवाला

जागरणसंवाददाता,देहरादून:पावरट्रांसमीशनकारपोरेशनआफउत्तराखंडलिमिटेड(पिटकुल)मेंकरोड़ोंकेट्रांसफार्मरघोटालेकीजांचवर्षोंसेलंबितहै।वर्ष2014में100करोड़सेअधिककीट्रांसफार्मरखरीदप्रक्रियामेंमानकोंकोताकपररखकमगुणवत्ताकेट्रांसफार्मरखरीदनेकेआरोपहैं।वर्ष2017मेंकैगकीरिपोर्टमेंभीगड़बड़ीकीपुष्टिहुईथी।जिसपरसुराजसेवादलनेमामलेकीजांचकरानेऔरआरोपितोंकेखिलाफकड़ीकार्रवाईकिएजानेकीमांगकीहै।

सुराजसेवादलकेप्रदेशअध्यक्षरमेशजोशीनेशनिवारकोपत्रकारोंसेवार्तामेंकहाकिऊर्जासेसंबंधितसंस्थाओंमेंकीजारहीगड़बडिय़ोंऔरभ्रष्टाचारपरकड़ीआपत्तिजताई।उन्होंनेकहाकिसूचनाकाअधिकारकेतहतउन्हेंपिटकुलमेंहुएघोटालेकीजानकारीमिली।कहाकियहजनताकेपैसेकादुरुपयोगहै।विकासऔरजनसुविधाओंमेंपैसालगानेकेबजायपिटकुलकेअधिकारियोंनेअपनीजेबभरी।

उन्होंनेकहाकिवर्ष2014मेंपिटकुलमेंट्रांसफार्मरखरीदकेटेंडरनिकालेगएऔरअधिकारियोंकीसांठगांठकेचलतेअर्हतापूरीनकरनेकेबावजूदमैसर्सआइएमपीकंपनीकोटेंडरआवंटितकरदियाहै।जिससेकरीब125करोड़कीलागतके28ट्रांसफार्मरखरीदेगए।यहट्रांसफार्मरमानकोंकोताकपररखकरखरीदेगएऔरजांचमेंकमगुणवत्ताकेपाएगए।इसपरआपत्तिजतानेवालेश्रीनगरकेअधिशासीअभियंताकोभीनिलंबितकरदियागया।आरोपहैकिट्रांसफार्मरपरकिसीकंपनीकाट्रेडमार्कभीनहींथा।रमेशजोशीनेकहाकिकैगकीआडिटरिपोर्टमेंभीवर्ष2017मेंपिटकुलमेंकरीब50करोड़रुपयेकेघोटालेकीपुष्टिहुई।वर्ष2019मेंशासनकेनिर्देशपरमामलेकीजांचकोएककमेटीगठितकीगई।

जिसमेंतत्कालीनउत्तराखंडजलविद्युतनिगमकेप्रबंधनिदेशकएसएनवर्मा,ऊर्जानिगमकेप्रबंधनिदेशकबीसीकेमिश्रा,पिटकुलकेनिदेशकसंदीपसिंघलऔरऊर्जानिगमकेनिदेशकपरिचालनअतुलअग्रवालकोसदस्यबनायागया।साथहीतीनदिनमेंप्रकरणसेसंबंधितआख्याऊर्जासचिवकोप्रस्तुतकरनेकेनिर्देशदिएगए।तबसेआजतकइसजांचकमेटीकीरिपोर्टप्रस्तुतनहींकीगई।साथहीमामलेमेंकोईकार्रवाईनहींहुई।

उन्होंनेपिटकुलकेप्रबंधनिदेशकपरतत्कालीनमुख्यअभियंताक्रयएवंअनुबंधकेपदपररहतेहुएउक्तघोटालाकरनेकाआरोपलगाया।उन्होंनेमुख्यमंत्रीसेमांगकीहैकिइसप्रकरणकीदोबाराजांचकीजाएऔरआरोपितोंकेखिलाफसख्तकार्रवाईकीजाए।