राजस्थान: नाबालिग ने 26 सप्ताह के गर्भपात की मांगी अनुमति, कोर्ट ने मेडिकल बोर्ड को कहा- जांच करें

नईदिल्ली:राजस्थानहाईकोर्टकेन्यायाधीशसंदीपमेहताऔरअभयचतुर्वेदीकीखंडपीठकेसमक्षएकनाबालिगगर्भवतीनेगर्भनहींरखनेकीइच्छाजताई.कोर्टने26सप्ताहकागर्भहोनेकीवजहसेएमडीएमअस्पतालकेतीनस्त्रीरोगविशेषज्ञोंकेमेडिकलबोर्डकोजांचकररिपोर्टपेशकरनेकेआदेशदिएहैं.मामलेमेंअगलीसुनवाई27मईकोहोगी.

याचिकापरसुनवाईकरतेहुएHCनेशुक्रवारकोराज्यसरकारकोनिर्देशदियाकिवहएकमेडिकलबोर्डकागठनकरेताकिवहयहसुनिश्चितकरसकेकिपीड़िताकेगर्भकोसमाप्तकरनेकीअनुमतिदेनाउसकेजीवनकेलिएखतरनाकहोगायानहीं.हाईकोर्टनेमेडिकलबोर्डकोसोमवारतकअपनीरिपोर्टदेनेकोकहाहै.

लड़कीकेपितानेहाईकोर्टमेंबंदीप्रत्यक्षीकरणयाचिकादायरकीथीजिसमेंकहागयाकिउसकीनाबालिगबेटीगायबहैऔरपुलिसउसेढूंढनेमेंविफलरहीहै.अदालतकेनिर्देशोंकेबाद,पुलिसजांचमेंपताचलाकिलड़कीकीशादीहोचुकीहै.जबकियाचिकाकेअनुसारलड़कीकोनाबालिगबतायागयाथा.पुलिसनेलड़कीकोअदालतमेंपेशकियाजहांसेउसेनारीनिकेतनभेजदियागया.

शुक्रवारकोएकप्रार्थनापत्रपेशकरआग्रहकियागयाकिलड़कीनाबालिगहैऔरउसेगर्भपातकरवानेकीअनुमतिदीजानीचाहिए.कोर्टनेकहाकिइसमामलेकेउपलब्धरिकॉर्डकोदेखतेहुएयहनिर्देशदिएमेडिकलबोर्डकोबच्चेकीमेडिकलजांचकरे.साथहीमेडिकलबोर्डकोमेडिकलटर्मिनेशनऑफप्रेग्नेंसीएक्टकेतहतइससुझावकेसाथरिपोर्टदेनेकोकहाहैकिइसस्टेजपरगर्भवतीकागर्भपातकरवानासुरक्षितरहेगा?