रेल लाइन के बगैर जिले का विकास अधूरा

जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:जिलेमेंरेललाइनकेबगैरविकासअधूराहै।रेललाइनआनेकेबादउद्योगसेलेकरआमआदमीतककोइसकालाभमिलेगा।जिलेकेविकासवपलायनकोरोकनेकेलिएरेललाइनबहुतआवश्यकहै।यहबातेंधरनाकार्यक्रमकेदौरानप्रदर्शनकारियोंनेकही।

बागेश्वर-टनकपुररेलमार्गनिर्माणसंघर्षसमितिकाधरनाप्रदर्शनजिलामुख्यालयस्थिततहसीलपरिसरमेंचलरहाहै।लगातारपांचवेंदिनयहप्रदर्शनतहसीलपरिसरमेंजारीहै।प्रदर्शनकेदौरानरेलमार्गनिर्माणसंघर्षसमितिकीअध्यक्षनीमादफौटीनेकहाकिपूर्ववर्तीसरकारोंनेविकासकाखोखलावादाकिया।जिसकाअसरहैकिकईबारसर्वेकेबादभीयहयोजनाजमीनपरनहींउतरसकी।महासचिवखड़करामआर्यानेकहाकिसरकारनेवादाकियाहैतोइसेपूराभीकरनापड़ेगा।सिर्फवोटलेनेकेलिएझूठावादाअबनहींचलनेवालाहै।उन्होंनेकहाकिरेललाइनआनेकेबादविकासकी²ष्टिसेपिछड़ेपहाड़केकईजिलोंकोलाभहोगा।इसमौकेपरगो¨वद¨सहभंडारी,हयात¨सहमेहता,महेंद्र¨सहपिलख्वाल,केशवानंदजोशी,केवल¨सहड्योढ़ी,शोबन¨सहनगरकोटी,राजन¨सह,खीम¨सहमेहता,पार्वतीपांडे,लक्ष्मीधर्मशक्तू,शोभामिश्र,लीलाकरायतआदिमौजूदरहे।