सासाराम में छात्रों ने मिट्टी का खिलौना बना लोकल फार वोकल के सपने को किया साकार, केंद्रीय विद्यालय में हुआ कार्यक्रम

जागरणसंवाददाता,सासाराम:रोहतास।स्थानीयकेंद्रीयविद्यालयमेंमंगलवारकोकलाप्रदर्शनीकाआयोजनकियागया।प्रदर्शनीमेंलगभग150चित्रएवंमिट्टीकेखिलौनोंवपेपरमास्कआदिसमेतकलाकृतियोंकाप्रदर्शनछात्रोंद्वाराकियागया।उद्घाटनविद्यालयकेप्राचार्यनंदलालपासवानकेकिया।इसदौरानप्राचार्यनेविद्यार्थियोंकेरचनात्मकताकार्योंकीप्रशंसाकी।सीनियरसेक्शनसे11वींबीकीदिव्याकुमारीतथाजूनियरवर्गमेंसातवींएकीआरतीकुमारीकेचित्रकृतिकोसर्वश्रेष्ठचुनागया।संचालनकलाशिक्षकचंद्रप्रकाशएवंप्राथमिकशिक्षिकाशिल्पाभट्टनेसंयुक्तरूपसेकिया।

छात्रोंकोसंबोधितकरतेहुएप्राचार्यनेकहाकिबच्चोंमेंप्रतिभाकीकमीनहींहोतीहै।सिर्फजरूरतहोतीहैसमयकेअनुरूपउसेनिखारनेकी।समय-समयपरइसतरहकीगतिविधियांआयोजितकरछात्रोंकोसृजनात्मकवरचनामत्ककार्योंकेप्रतिप्रेरितकरनाशिक्षणसंस्थानोंशैक्षणिककैलेंडरकाअहमभागहोनाचाहिए।मिट्टीकाखिलौनाबनाबच्चोंनेजोअपनीकलात्मकप्रतिभाकाप्रदर्शनकियाहै,वहअतुलनीयहै।इससेसेलोकलफारवोकलअभियानकोऔरअधिकमजबूतीमिलेगी।इसअवसरपरविद्यालयकेशिक्षकआरबीप्रसाद,नीरजतिवारी,प्रियंकापराशर,कुंदनकमल,प्रमोदकुमार,प्रेमशंकर,एनजेराम,एलडीसिंह,प्रदीपप्रसाद,महिमाश्रीवास्तव,अविनाशकुमारअंजना,किरणलता,एसकेतिवारी,नवनीतकुमार,मोनालीसिंह,प्रियदर्शिनी,डाक्टरबृजेशकुमार,अश्विनीकुमारसमेतअन्यउपस्थितथे।