सैन्य जमीन घोटाले में सीबीआई छापे

नईदिल्ली।।सीबीआईनेअतिसुरक्षावालेश्रीनगरहवाईअड्डेकेनजदीकसेनाकीजमीनकीबिक्रीमेंकथितअनियमितताओंकीजांचकेतहतरक्षामंत्रालयकेअधिकारियोंऔरअन्यकेखिलाफमामलादर्जकियाहै।मामलादर्जकरनेकेफौरनबादएजेंसीनेजम्मू,श्रीनगर,पटना,दिल्लीऔरचंडीगढ़मेंविभिन्नस्थानोंपरछापेभीमारे।पिछलेसालइसमामलेमेंसीबीआईनेशुरुआतीजांचकेदौरानपायाथाकिउसेऐसेसुबूतमिलेहैंकिसामरिकदृष्टिसेमहत्वपूर्णऔरअच्छीलोकेशनवालीइसजमीनकोबेचनेकेलिएनिजीव्यक्तियोंकोमनमानेतरीकेसेअनापत्तिप्रमाणपत्र(एनओसी)देदिएगए।सीबीआईनेइससंबंधमेंआईपीसीऔरभ्रष्टाचारनिरोधककानूनकेतहतदर्जएफआईआरमें1997केबैचकेडिफेंसएस्टेटअधिकारीअजयचौधरीऔरअन्यकोनामजदकिया।एजेंसीनेकश्मीरघाटीमेंजमीनकीबिक्रीकेलिएएनओसीदिएजानेकेमामलेकीजांचकेलिएरक्षामंत्रालयसेअनुरोधमिलनेकेबादरक्षासंपत्तिमहानिदेशालयऔरस्थानीयराजस्वविभागकेरिकॉर्डकीभीजांचकी।रक्षामंत्रीए.के.एंटनीनेपिछलेवर्षसंसदकोसूचितकियाथाकिइसमामलेमेंशिकायतमिलनेकेबादशुरुआतीजांचकराईगई,जिससेयहमालूमहुआकिप्रथमदृष्टयाएनओसीदिएजानेमेंअनियमितताबरतीगई,जिसकेव्यापकप्रभावहोसकतेहैं।रक्षामंत्रालयकीप्रारंभिकजांचकेदौरानऐसामालूमहुआकिपिछलेचारवर्षमेंश्रीनगरमेंरक्षाएस्टेटविभागद्वारा70सेज्यादाएनओसीजारीकिएगए।यहप्रमाणपत्रनिजीकंपनियोंकोश्रीनगरकेअतिसुरक्षावालेसैन्यप्रतिष्ठानोंकेआसपास220एकड़सेज्यादाजमीनखरीदनेकेलिएजारीकिएगए।रक्षामंत्रालयकीजांचरिपोर्टकेअनुसाररक्षाविभागकीकुछभूमिराजस्वविभागकेआंकड़ोंमेंअभीनिजीव्यक्तियोंअथवाराज्यसरकारकेनामपरहै।यहचिंताकाविषयहै,क्योंकिकुछलोगइसकाफायदाउठाकरफर्जीखरीद-फरोख्तकोअंजामदेसकतेहैं।विभिन्नरक्षागतिविधियोंकेलिएनिर्धारितजमीनकाजिम्माडायरेक्टोरेटजनरलआफडिफेंसएस्टेट्सकाहोताहै।रक्षाविभागकेपास17.53लाखएकड़भूमिहै,जिसमेंसेकरीब1.57लाखएकड़62अधिसूचितछावनियोंकेभीतरहैऔरकरीब15.96लाखएकड़इनछावनियोंकेबाहरहै।