सदर अस्पताल में मरीजों के हंगामे पर दूसरे चिकित्सक की लगाई गई ड्यूटी

औरंगाबाद।समय:सुबह9बजे,स्थान:सामान्यओपीडीकक्ष,दिन:शनिवार।ओपीडीकक्षखुलीथी।महिलाएंएवंपुरुषअलग-अलगकतारमेंखड़ेथे।कक्षमेंडा.सुनीलकुमारएक-एककरमरीजोंकाइलाजकररहेथे।दूसरेचिकित्सककेबारेमेंचिकित्सकएवंसुरक्षागार्डसेपूछागयातोबतायाकिडा.अर्चनाकुमारीकीड्यूटीहै।वहअबतकनहींआईहैं।इसकीजानकारीजबकार्यालयसेलीगईतोबतायागयाकिडा.अर्चनाआजछुट्टीपरहै।मरीजोंनेजबहंगामाकरनाशुरूकियातोडा.जन्मेजयकुमारकोबुलायागया।10बजेडा.जन्मेजयनेअर्चनाकुमारीकीजगहकमानसंभालाऔरमरीजोंकाइलाजशुरूकिया।मरीजोंमें80प्रतिशतसेअधिकवायरलबुखारकेमामले

सदरअस्पतालमेंचिकित्सकोंकीकमीइसकदरबदहालहोगईहैकिएकचिकित्सक130मरीजोंकाइलाजकररहेहैं।शनिवारकोडा.सुनीलकुमारने130मरीजोंकाइलाजकिया।अबसोचाजासकताहैकिपांचघंटेमें130मरीजोंकाइलाजकैसेहोसकताहै।डा.सुनीलनेबतायाकिजिनमरीजोंकाइलाजकियाहै,उसमें80प्रतिशतसेअधिकवायरलबुखारसेपीड़ितथे।गंभीररूपसेबीमारमरीजकीखूनजांचकराईजारहीहै।साधारणबुखार,खांसीएवंसर्दीवालेमरीजकोपांचयासातदिनकादवादियाजारहाहै।दवाखत्महोतेहीमिलनेकासलाहदियाजारहाहै।बतायाकियहवायरलबुखारकाफीतेजीसेपैरपसाररहाहै।लोगोंकोखुदसेसतर्कताबरतनीहोगी।पेटदर्दकीनहींहैदवा

इनदिनोंवायरलबुखारनेलोगोंकोजीनामुहालकरदियाहै।इसस्थितिमेंसदरअस्पतालमेंदवाकाघोरअभावहै।यहांबेहतरएंटिबायोटिकनहींहै।पेटदर्द,पेटखराबएवंविटामिनकीकोईदवानहींहै।खांसीकाकोईदवानहींहै।सोचाजासकताहैकिमरीजोंकाकिसतरहसेइलाजकियाजारहाहै।ओपीडीमेंचिकित्सकमरीजकेपुर्जापरदवालिखरहेहैंपरंतुवहअस्पतालमेंनहींमिलपारहाहै।बाहरकेमेडिकलएजेंसीसेदवाकीखरीदारीकरनीपड़रहीहै।दवालेनेपहुंचे65वर्षीयशिवगंजनिवासीअर्जुनमेहतानेबतायाकिउन्हें10दिनोंसेखांसीहै।लगातारदस्तहोरहाहै।चिकित्सकनेदवालिखदीपरंतुमिलनहींरहाहै।बाहरमेंअधिकपैसादेकरदवाखरीदनापड़रहाहै।खूनजांचमेंअचानकहुईबढ़ोतरी

वायरलबुखारकेकारणइनदिनोंटाइफाइड,मलेरियावडेंगूजांचकीसंख्यामेंबढ़ोतरीहुईहै।टेक्नीशियननेबतायाकिपहले10से15मरीजकाटाइफाइडजांचकीजातीथीपरंतुअबप्रतिदिन30से40मरीजकाजांचहोरहीहै।50से60मरीजोंकामलेरियाकाजांचकीजारहीहै।महीनामेंदोसेचारव्यक्तियोंकीडेंगूजांचविशेषपरिस्थितिमेंहोतीथीपरंतुअबप्रतिदिनदोसेचारमरीजोंकीजांचकीजारहीहै।कहतेहैंसीएस-

सीएसडा.कुमारवीरेंद्रनेबतायाकिवायरलबीमारीकोलेकरस्वास्थ्यविभागअलर्टहै।हरजरूरतमंदसुविधाओंकोउपलब्धकरायाजारहाहै।सभीप्रखंडोंकेप्रभारीचिकित्सापदाधिकारीकोअलर्टरहनेकानिर्देशदियागयाहै।अस्पतालमेंमरीजोंकेबेहतरइलाजकाप्रबंधकियागयाहै।