शिक्षा के साथ संस्कार को मजबूत करता है डीएवी

देवघर:दसवींकेपरिणामआनेकेबादबुधवारकोडीएवीमेंमहाहवनकाआयोजनकियागया।इसमेंबोर्डकीपरीक्षामेंअव्वलआनेवालेटापतीनविद्यार्थीअपनेमाता-पिताएवंअभिभावकोंकेसाथशामिलहुए।विद्यालयकेसंस्कृतशिक्षकराजूकुमारमिश्रानेवैदिकमंत्रोच्चारणकेसाथयज्ञहवनकिया।विद्यालयकेसंगीतशिक्षकअभिषेकसूर्यनेकईसुमधुरभजनप्रस्तुतकरवातावरणकोभक्तिमयबनादिया।प्राचार्यडाविजयकुमारनेदसवींकीपरीक्षामेंउत्कृष्टप्रदर्शनकरनेवालेअनुरागआनंद,रौम्यरंजननायक,रितुपर्णाकुमारीएवंसाहिलभारद्वाजसहितसभीसफलपरीक्षार्थियोंकेउज्जवलभविष्यकीकामनाकीएवंकहाकिछात्र-छात्राओंकीसफलतामेंजितनामहत्वपूर्णयोगदानविद्यालयकेशिक्षकोंकाहैउतनीहीमहतीभूमिकामातापिताएवंअभिभावकोंकाभीहै।कहाकियदिमातासुनीतिकीतरहहोगीतोपुत्रभीध्रुवकीतरहहोगा।बच्चोंकेलिएप्रारंभिकसंस्कारशालाउनकेमातापिताहीहैं।मातापिताकेहीशुभकर्मोंकाफलबच्चोंकोसफलताकेरूपमेंवापसमिलताहै।अत:विद्यालयकेसभीसफलछात्र-छात्राओंकेमातापिताएवंअभिभावकोंसेअनुरोधहैकिवहइसीप्रकारअपनेबच्चोंकीसफलतामेंअपनीभूमिकासुनिश्चितकरें।उनकासम्मानकरेंक्योंकिडीएवीएकमात्रऐसीसंस्थाहैजोबच्चोंमेंआधुनिकशिक्षाकेसाथसंस्कारभीदेतीहै।विद्यालयमेंप्रथम,द्वितीयएवंतृतीयस्थानपरआनेवालेछात्र-छात्राओंनेभीअपनेविद्यालयकेअनुभवकोसबकेसाथसाझाकियाएवंकार्यक्रममेंआएसभीमाता-पिताएवंअभिभावकोंनेछात्र-छात्राओंकेउत्थानमेंविद्यालयपरिवारकीप्रशंसाकी।