शिक्षा में गुणवत्ता के साथ नैतिकता जरूरी

विज्ञापनकीखबर-जागरणसंवाददाता,औरंगाबाद:शिक्षामेंगुणवत्ताऔरनैतिकताजरूरीहै।छात्रछात्राओंकोकिताबीज्ञानकेअलावासंस्कारकाज्ञानहोनाजरुरीहै।रविवारकोशहरकेएकहोटलमेंआयोजितकार्यक्रममेंजॉनजैक्शनइंटरनेशनलविद्यालयकेनिदेशकई.युगलकिशोरसिंहनेकहा।निदेशकनेकहाकिदेवकेआनंदपुरारोडबहुआरारोडस्थितविद्यालयकोअंतरराष्ट्रीयआइएसओकादर्जाकाप्रमाणपत्रमिलाहै।कहाकिजबतकसमाजकाहरवर्गमेंशिक्षितनहींहोगासमाज,राज्यऔरदेशकीतरक्कीनहींहोगी।शिक्षाकेमहत्वपरचर्चाकरतेहुएकहाकिशिक्षासेहरकठिनकार्यकोआसानीसेकियाजासकताहै।सर्वसुलभस्तरीयशिक्षाकोसुनिश्चितकियागयाहै।कहाकिविद्यालयबच्चोंकीपाठशालाकेअलावासंस्कारशालाहोतीहै।विद्यालयकेशैक्षणिकसलाहकारकेकौशलेंद्रनेकहाकिविद्यालयमेंछात्रछात्राओंकोशिक्षाकेअलावास्मार्टक्लासकेअलावाअन्यप्रकारकीसुविधादीगईहै।बच्चोंकोशिक्षाकेसाथचिकित्साकीसुविधाउपलब्धकराईगईहै।प्राचार्यरोडशीगराईनेकहाकिशिक्षासिर्फकिताबोंतकसीमितनहींहोनीचाहिएबालमनोविज्ञानकोभीप्राथमिकतादेनीचाहिए।कुमारनिशांत,विकासकुमारसिंहसमेतसभीशिक्षकमौजूदरहे।