शराब की ऑनलाइन बिक्री पर फैसला 15 मई तक लिया जाए : अदालत ने दिल्ली सरकार से कहा

नयीदिल्ली,14मई(भाषा)दिल्लीउच्चन्यायालयनेराजधानीकीआपसरकारसेशराबकीऑनलाइनबिक्रीपरफैसला15मईतकलेनेकोकहाहै।न्यायमूर्तिराजीवसहायएंडलॉऔरन्यायमूर्तिसंगीताढींगरासहगलकीपीठनेदिल्लीसरकारकोउसकेइसआश्वासनकापालनकरनेकोकहाकिवहशराबकीऑनलाइनबिक्रीऔरइसेघरतकपहुंचानेपरफैसला15मईतकलेगी।पीठनेउक्तनिर्देशकेसाथहीएकविधिछात्रकीयाचिकाकोखारिजकरदियाजिसनेराष्ट्रीयराजधानीमेंशराबकीबिक्रीकीअनुमतिदेनेवालीदिल्लीसरकारकीतीनमईकीअधिसूचनाकोरद्दकरनेकीमांगकीथी।उच्चन्यायालयनेकहाकियाचिकामेंउठायेगयेमुद्दोंपर11मईकोनिस्तारितइसीतरहकीअनेकयाचिकाओंमेंपहलेहीविचारकियाजाचुकाहै।उसमेंकेंद्रऔरदिल्लीसरकारकोशराबकीऑनलाइनबिक्रीकरनेकेसंबंधमेंतथाशराबकीदुकानोंकेबाहरभीड़लगनेसेरोकनेकेलिएजल्दसेजल्दफैसलालेनेकानिर्देशदियागयाथा।विधिछात्रकीयाचिकापरसुनवाईकरतेहुएपीठनेकेंद्रऔरदिल्लीसरकारसेपूछाकिक्या11मईसेकोईफैसलालियागयाहैयानहीं?उच्चन्यायालयने11मईकोअपनेआदेशमेंजोमेटोजैसेखाद्यआपूर्तिऐपकेमाध्यमसेशराबकीघरतकआपूर्तिकरनेसेसंबंधितएकसुझावपरचिंताजतातेहुएकहाथाकिइसमेंसुरक्षासंबंधीमुद्देहोंगे।उच्चन्यायालयनेकहाथा,‘‘रास्तेमेंशराबछिनजानेकीआशंकाकोखारिजनहींकियाजासकता।शराबघरतकपहुंचानेकीसंभावनासेइसमेंमिलावटकीआशंकाभीबढ़जाएगीजिससेलोगोंकीजानभीजासकतीहैजबकिअभीतकइसकावितरणव्यापकरूपसेसरकारकेहाथमेंहै।’’अदालतनेकहाथा,‘‘ऐसालगताहैकिघर-घरशराबकीआपूर्तिइसीतरहकरनीहोगीजैसेबैंकोंकेबीचमेंतथाबैंकोंसेएटीएमकेबीचनकदीकोलेजायाजाताहै।’’बृहस्पतिवारकोसुनवाईकेदौरानकेंद्रनेकहाकिअनेकराज्योंनेशराबकीऑनलाइनबिक्रीशुरूकरदीहै,वहींदिल्लीसरकारनेअदालतकोबतायाकिशुक्रवार,15मईसेपहलेफैसलालियाजाएगा।इसकेबादपीठनेयाचिकाकोखारिजकरदियाऔरकहाकिदिल्लीसरकार15मईतकशराबकीऑनलाइनबिक्रीपरफैसलालेनेकेअपनेआश्वासनकापालनकरनेकेलिएबाध्यहोगी।